Covid-19 Update

1,98,551
मामले (हिमाचल)
1,90,377
मरीज ठीक हुए
3,375
मौत
29,505,835
मामले (भारत)
176,585,538
मामले (दुनिया)
×

आवाज बुलंद : Rohtang Tunnel के नामकरण ने पकड़ा जोर 

आवाज बुलंद : Rohtang Tunnel के नामकरण ने पकड़ा जोर 

- Advertisement -

पूर्व पीएम वाजपेयी और अर्जुन गोपाल के नाम की जनजातीय कल्याण समिति ने रखी बात

कुल्लू। रोहतांग टनल का निर्माण कार्य पूरा होने के बाद अब उसके नामकरण को लेकर आवाज बुलंद होने लगी है। लाहुल स्पीति जनजातीय कल्याण समिति के वर्तमान अध्यक्ष डॉ चंद्रमोहन परशीरा ने मांग की है कि रोहतांग टनल का नाम पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी तथा उनके लाहुली बाल सखा अर्जुन गोपाल के नाम से रखा जाए। डॉ परशीरा के अनुसार उन्होंने रोहतांग टनल से जुड़े सभी दस्तावेज पीएम नरेंद्र मोदी को भेज दिए हैं, जो इस टनल के निर्माण से जुड़े चंद लाहुली लोगों के संघर्ष और अटल बिहारी वाजपेयी के विराट व्यक्तित्त्व की दास्तान कहते हैं।

एक सौ पैंतीस वर्ष पहले देखा था सपना

परशीरा ने कहा कि यूं तो टनल का सपना मोरावियन मिशनरी के लोगों ने एक सौ पैंतीस वर्ष पहले देखा था मगर हकीकत में टनल का वजूद तब सामने आया जब अटल बिहारी वाजपेयी भारत के पीएम बने और उनका एक लाहुली बालसखा अर्जुन गोपाल अपने दो सहयोगियों छेरिंग दोरजे इतिहासकार तथा अभय चंद राणा दिल्ली पहुंचे। पूर्व पीएम अटल बिहारी वीजपेयीऔर अर्जुन गोपाल पचास के दशक में बडौदा संघ शिक्षा वर्ग में मिले थे और वहीं उनकी मित्रता हुई थी मगर पीएम बनने के बाद जिस भांति लगभग चालीस साल बाद मिले अपने मित्र को उन्होंने दिल्ली पीएम कार्यालय में गले लगाया था।

वाजपेयी ने दिया था मित्र को तोहफा

डॉ परशीरा ने कहा कि अटल के कहने पर अर्जुन गोपाल ने लाहुल स्पीति एवं पांगी जनजातीय कल्याण समिति के नाम से संस्था बनाई थी, जिसके वह स्वयं प्रथम अध्यक्ष बने और इसी नाम से तीन वर्षों तक पीएम कार्यालय से रोहतांग टनल के विषय पत्राचार एवं बैठकें होती रही थी। अंत में अटल बिहारी वाजपेयी बतौर पीएम केलांग आए और रोहतांग टनल का तोहफा देकर न केवल मित्रता का वचन निभाया, बल्कि पश्चिम हिमालय में देश को सामरिक दृष्ठि से सुदृढ़ करने का ऐतिहासिक कार्य किया।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है