Covid-19 Update

1,99,197
मामले (हिमाचल)
1,91,732
मरीज ठीक हुए
3,394
मौत
29,627,763
मामले (भारत)
177,191,169
मामले (दुनिया)
×

रोहड़ू की Dr Divya ने बनाई जड़ी-बुटियों से युक्त तीन किस्म की चाय; Immunity बढ़ाने में कारगर

रोहड़ू की Dr Divya ने बनाई जड़ी-बुटियों से युक्त तीन किस्म की चाय; Immunity बढ़ाने में कारगर

- Advertisement -

रोहड़ू। रोहड़ू उपमंडल के चिढ़गांव तहसील के अंर्तगत दूरदराज जगोठी गांव की रहने वाली डॉ दिव्या (Dr Divya) ने कोरोना संकट (Corona Crisis) में समय का सही उपयोग कर अपनी इनोवेशन सोच को साकार किया है। बायोटेक में डाक्ट्रेट डिग्री लेने के बाद डॉ दिव्या हाथ पर हाथ धर कर नहीं बैठी। उन्होंने अपनी पढ़ाई का सदुपयोग कर लोगों की इम्यूनिटी को किस तरह बढ़ाया जाए इस सोच को साकार करने में लगाया व आखिर में कामयाब भी हुई। पीएम नरेंद्र मोदी के लोकल के लिए वोकल बनने के आह्वान को सार्थक किया।

यह भी पढ़ें: होमगार्ड सहित एक दंपति Charas के साथ गिरफ्तार, चार दिन के रिमांड पर भेजे


काफी शोध के बाद तैयार की चाय

डॉ दिव्य ने अपनी इस इनोवेटिव सोच को सार्थक करने के लिए क्षेत्र में मिलने वाली हर्बल गुच्छी, रेड राइस एवं कुलथ व जंगलों में मिलने वाली जड़ी-बुटियों को इक्ट्ठा कर उनपर शोध कर पाया कि गुच्छी, रेड राइस व कुलथ काफी अच्छे इम्यूनिटी बूस्टर है, जो कोरोना जैसी वैश्विक महामरी के दौरान लोगों की इम्यूनिटी बढ़ाने में सार्थक है। डॉ दिव्या ने अपने इस कार्य को जारी रखते हुए आखिर कामयाबी हासिल कर तीन किस्म की चाय (Tea) (पेय पदार्थ) तैयार की जो मनु्ष्य की प्रतिरक्षा (Immunity) बढ़ाने में काफी सहायक है। डॉ दिव्या ने बलैंड करके गुच्छी चाय, रेड राइस चाय व कुलथ चाय को तैयार किया है। डॉ दिव्या ने गुच्छी चाय और रेड राइस चाय को पैटेंट करने के लिए दिल्ली में पंजीकरण भी कर रखा है।

करीब दो सौ महिलाओं के ग्रुप को प्रशिक्षित करेंगी

गुच्छी चाय मनुष्य के लिए जहां कोरोना के दौरान काफी अच्छा प्रतिरक्षा बुस्टर है, वहीं ये कैंसर जैसे रोगों से लड़ने में भी मददगार है। इसी तरह रेड राइस चाय में जहां आयरन काफी ज्यादा है, वही ये भी मानव के अंदर प्रतिरक्षा बढ़ाने का काम करती है। इस तरह कुलथ की चाय प्रतिरक्षा बुस्टर के साथ-साथ वजन कम करने भी सहायक है। इसके अलावा डॉ दिव्या नेचर से मिलने वाली वस्तुओं से हानि रहित साबुन व डाई (रंग) भी बना रही है। डॉ दिव्य की इस प्रतिभा को देखकर कृषि विज्ञान केंद्र रोहड़ू के प्रभारी डॉ कायथ व उद्यान अधिकारी रोहड़ू डॉ कुशाल मेहता ने बहुत प्रभावित है। उद्यान विभाग ने निर्णय लिया कि भविष्य में डॉ दिव्य क्षेत्र की करीब दो सौ महिलाओं के ग्रुप को प्रशिक्षित करेंगी। इसी तरह से कृषि विज्ञान रोहड़ू ने डॉ दिव्या के इस प्रोजेक्ट को आगे बढ़ाने का निर्णय लिया है। दिव्या को आगे चल कर दिल्ली प्रशिक्षण के लिए भेजेगी।

कुलथ टी वजन कम करने व किडनी से संबंधित बिमारियों से लड़ने मे सहायक

कृषि विज्ञान केंद्र रोहड़ू के प्रभारी डॉ कायथ ने डॉ दिव्या विशंभरा झंटेल के कार्य की तारिफ करते हुए कहा कि प्रोजेक्ट बहुत ही सराहनीय है। डॉ दिव्य के द्वारा तैयार की गई तीन किस्म की चाय मानव की प्रतिरक्षा को बढ़ाने में काफी मद्दगार साबित होगी। उद्यान अधिकारी रोहड़ू डॉ कुशाल मेहता ने कहा कि डॉ दिव्या विशंभरा झंटेल का प्रोजेक्ट आगे चलकर क्षेत्र के लिए काफी मददगार साबित होगा। डॉ दिव्या विशंभरा झंटेल ने कहा कि इनोवेटिव सोच लाने से जहां स्किल डवल्पमेंट होती है, वही रोजगार भी बनता है। कोरोना काल के समय में लोगों की प्रतिरक्षा को किस तरह से बढ़ाया जाए यह सोच को लेकर आगे बढ़ी। हर्बल टी कैफिन फ्री होती है। गुच्छी चाय और रेड राइस टी काफी प्रतिरक्षा बुस्टर है। गुच्छी टी जहां मानव के अंदर अच्छा प्रतिरक्षा बढ़ाने वाला है, वही ये कैंसर जैसी बिमारी से लड़ने में भी सहायक है। इसी तरह से रेड राइस टी में जहां आयरन की मात्रा काफी होती है, वहीं इम्यून्टी बुस्टर भी है। इसी तरह से कुलथ टी वजन कम करने व किडनी से संबंधित बिमारियों से लड़ने मे सहायक है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है