Covid-19 Update

2,00,791
मामले (हिमाचल)
1,95,055
मरीज ठीक हुए
3,437
मौत
29,973,457
मामले (भारत)
179,548,206
मामले (दुनिया)
×

डॉ. सांग्ये ने निर्वासित तिब्बतियों से मई के अंत तक Lockdown जारी रखने का किया आग्रह

डॉ. सांग्ये ने निर्वासित तिब्बतियों से मई के अंत तक Lockdown जारी रखने का किया आग्रह

- Advertisement -

धर्मशाला। दुनिया भर में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या में तेजी से इजाफा हो रहा है, जिससे तिब्बत भी अछूता नहीं है। तिब्बत के तीनों प्रांतों तिब्बत और आसपास के क्षेत्रों में, कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या 866 है, जिनमें से 106 तिब्बती हैं। यह उद्गार गुरुवार को केंद्रीय तिब्बती प्रशासन के अध्यक्ष (सिक्यांग) डॉ. लोबसांग सांग्ये ने मीडिया से बातचीत में कही। हालांकि डॉ. लोबसांग सांग्ये ने इसे असंगत बताते हुए इसकी निंदा की। यह डेटा 17 मार्च से पहले एकत्र किया गया था उसके बाद चीनी सरकार ने कड़ाई से सेंसरशिप लागू कर दी थी। उन्होंने तिब्बत के बाहर रह रहे तिब्बितयों से कहा हम आपके साथ हैं। अमेरिका (America) में रह रहे तिब्बतियों के संबंध में बोलते हुए उन्होंने कहा कि न्यूयॉर्क में तिब्बती समुदाय से लगभग 100 पॉजिटिव मामले सामने आए हैं। न्यू जर्सी में 5 तिब्बतियों के पॉजिटिव मामले हैं। ऐसे में उन्होंने सभी तिब्बतियों से एहतियाती कदम उठाने का आग्रह किया। जबकि भारत में कोई भी मामला नहीं है। हालांकि, उन्होंने मौजूदा स्थिति को हल्के में नहीं लेने का इशारा किया और हर कीमत पर सामाजिक दूरियां बढ़ाने की सलाह दी।

यह भी पढ़ें: Shahpur में रह रही पाकिस्तानी महिला का Visa खत्म, केस दर्ज

उन्होंने कहा कि 14 अप्रैल के बाद से प्रति दिन दर्ज मामलों की संख्या 1000 को पार कर गई है जबकि बुधवार को यह संख्या 1500 को पार कर गई जो महामारी फैलने में वृद्धि का संकेत हैं। वैज्ञानिक भविष्यवाणी कर रहे हैं कि रोग मई के पहले और दूसरे सप्ताह में चरम पर होगा और यह स्वाभाविक है कि यह अगले हफ्तों में भी कम नहीं होगा। मई फसल कटाई और बुवाई का मौसम भी है, जिसका अर्थ है कि 120 मिलियन की संख्या वाले किसान और 140 मिलियन की संख्या वाले मजदूर 260 मिलियन हैं जो काम करने के लिए बाहर होंगे। इसके अतिरिक्त सरकारी लॉकडाउन समाप्त होने वाला है और व्यावसायिक गतिविधि फिर से शुरू होने के साथ 1200 मिलियन आबादी वाले क्षेत्र के लिए सामाजिक गड़बड़ी असंभव है। इसलिए उन्होंने निर्वासित तिब्बतियों से लॉकडाउन (Lockdown) जारी रखने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि तिब्बती समुदाय में एक मामला सामने आने पर सारे बौद्ध मठ, कॉलोनी, स्कूल, वृद्धाश्रम को बंद कर दिया गया था। मई माह में तिब्बतियों का पवित्र त्यौहार साका दावा शुरू होने वाला है ऐसे में उन्होंने लोगों से उपवास करने और अपने घरों में प्रार्थना करने का अनुरोध किया। उन्होंने तिब्बतियों को रेड जोन क्षेत्रों जैसे मुंबई और कोलकाता से दूर रहने की सलाह दी। उन्होंने तिब्बतियों से सोशल मीडिया से कोरोनोवायरस समाचार ना पढ़ने का आग्रह किया, जो सूचना के विश्वसनीय स्रोत नहीं हैं, जब तिब्बती लोग इसे सोशल मीडिया पर प्रसारित करते हैं, जिससे प्रशासन के लिए भी मुश्किलें पैदा होती हैं। इसके बजाय महामारी के बारे में खबरों पर सरकार से जुड़े मीडिया का अनुसरण करें।


हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है