Expand

तैयारी : Bindal कुछ ऐसे करेंगे Winter Session को गर्म

तैयारी : Bindal कुछ ऐसे करेंगे  Winter Session को गर्म

- Advertisement -

नाहन। बीजेपी विधायक डॉ. राजीव बिंदल धर्मशाला के तपोवन में होने वाले विधानसभा के शीतकालीन सत्र को गर्म करने की तैयारी कर बैठे हैं। सिरमौर जिले से संबंध रखने वाले प्रश्नों का बारूद बनाकर वह किस तरह से फोड़ेंगे इसकी तैयारी कुछ इस तरह से की है, जिला सिरमौर में बीते 3 वर्षों में गोला, बारूद, जिन्दा कारतूसों का पकड़ा जाना, सिरमौर की लड़कियों को बेचा जाना व गौ तस्करी जैसे गंभीर अपराध दर्ज किए गए हैं तो सरकार इन मामलों से उत्पन्न स्थिति से निपटने के लिए क्या-क्या कदम उठा रही है।

  • बिंदल का प्रश्न यह है कि उपरोक्त मामलों का अन्य राज्यों के बॉर्डर जिला में पाया जाना गंभीर मामला हैं इसे देखते हुए सरकार भविष्य में क्या-क्या कदम उठाएगी इस के बारे में ब्यौरा प्रदान किया जाए। 

questionयही नहीं बिंदल का सवाल यह भी है कि बीते 3 वर्षों में जिला सिरमौर में हत्या, रेप, हत्या का प्रयास, डकैती, चोरी, धार्मिक उन्माद, गौ तस्करी कन्या भ्रूण हत्या लड़कियों को बेचा जाना, एनसीपीएस व अन्य अपराधों के कितने-कितने मामले दर्ज हुए, इस सभी का अलग-अलग थाना अनुसार विस्तृत ब्यौरा प्रदान किया जाए। वीरभद्र सरकार को घेरने के लिए बिंदल का सवाल तो यह भी है कि कितने मामलों में आरोपियों पर कार्रवाई हुई और कितने मामले अभी लंबित हैं। लंबित मामलों कार्रवाई न होने या आरोपी के न पकड़े जाने के पीछे क्या कारण रहे, अलग-अलग व  विस्तृत जानकारी दें।

vidhan-sabha-tapovan-1बिंदल बताते हैं कि उनका सरकार से सवाल यह भी है कि पांवटा थाना के अंतर्गत माजरा चौकी के अधीन कितने मामले दर्ज हुए व इतने अधिक मामलों के दृष्टिगत इस चौकी को थाना बनाया जाना जरूरी है। क्या सरकार इसे थाना बनाएगी ताकि अपराधों पर नकेल कसी जा सके। डॉ. यशवंत सिंह परमार मेडिकल कॉलेज में एमसीआई की आवश्यकता अनुसार प्रथम वर्ष व द्वितीय वर्ष एमबीबीएस के लिए भवन, लैब, स्टाफ के अलावा, फैकेल्टी से संबंधित व अन्य क्या- क्या कमियां हैं विस्तार से केटेगरी अनुसार सूचना मुहैया करवाई जाए। साथ ही यह भी बताया जाए कि उक्त कमियों को कब- कब किस प्रकार दूर किया जाएगा। बीजेपी विधायक का सरकार से सवाल है कि मेडिकल कॉलेज नाहन के अस्पताल से बीते 3 मास में कितने- कितने रोगी सर्जरी, आर्थो, गाइनी व अन्य विभागों से रेफर किए गए। इसका पूरा ब्यौरा प्रदान करें साथ ही यह भी बताएं कि उक्त रोगी अस्पताल से किस-किस कमी के कारण रेफर किए गए और वह कमी कब तक दूर कर दी जाएगी। इन सभी का विभाग अनुसार ब्यौरा मिलना चाहिए।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है