Covid-19 Update

1,42,510
मामले (हिमाचल)
1,04,355
मरीज ठीक हुए
2039
मौत
23,340,938
मामले (भारत)
160,334,125
मामले (दुनिया)
×

युगांडा में गूंजी हिमाचल की ई-विधान प्रणाली, डॉक्यूमेंटरी फिल्म भी दिखाई

युगांडा में गूंजी हिमाचल की ई-विधान प्रणाली, डॉक्यूमेंटरी फिल्म भी दिखाई

- Advertisement -

युगांडा/शिमला। अफ्रीका के युगांडा में चल रहे 64वें राष्ट्रमंडल संसदीय सम्मेलन (Commonwealth Parliamentary Conference) में हिमाचल की ई-विधान (E-vidhan) प्रणाली की गूंजी। हिमाचल विधानसभा अध्यक्ष डॉ. राजीव बिंदल ने प्रणाली के बारे सम्मेलन में विस्तृत जानकारी दी। साथ ही हिमाचल प्रदेश विधानसभा की ओर से ई-विधान पर बनाई गई एक छोटी डॉक्यूमेंटरी फिल्म (Documentary film) भी प्रदर्शित की गई।



यह भी पढ़ें: अरुण सिंह धूमल बने एचपीसीए के अध्यक्ष, एजीएम में की घोषणा


बता दें कि हिमाचल प्रदेश विधानसभा के अध्यक्ष डॉ. राजीव बिंदल ने तकनीकी सत्र के दौरान लोकतंत्र की मजबूती के लिए प्रौद्योगिकी का उपयोग विषय पर भारतीय प्रतिनिधिमंडल का प्रतिनिधित्व करते हुए अपने विचार व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि संसदीय कार्यों के प्रभावी और त्वरित संचालन में सूचना प्रौद्योगिकी का बेहतर इस्तेमाल किया जा सकता है। साइंस और टेक्नोलॉजी के इस्तेमाल से हम लोकसभा और विधानसभाओं की कार्यप्रणाली को जनहित में और बेहतर कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि टेक्नोलॉजी के इस्तेमाल से हम अपने रूटीन कार्यों को पेपरलेस कर समय और धन की बचत भी कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि साइंस और टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल संसदीय कार्यप्रणाली में बेहतर परिणाम ला सकता है।

उन्होंने कहा कि हिमाचल जैसे छोटे से पहाड़ी प्रदेश ने इस दिशा में अच्छे प्रयास किए हैं। हिमाचल विधानसभा ई-विधान (E-vidhan) प्रणाली के माध्यम से शानदार ढंग से कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि हमने हिमाचल विधानसभा में ई-विधान के माध्यम से संसदीय कार्यप्रणाली को पेपरलेस करने की दिशा में अच्छे प्रयास किए हैं, जिसके साकारात्मक परिणाम सामने आए हैं। डॉ. राजीव बिंदल ने कहा कि ई-विधान एक पर्यावरण मित्र प्रणाली है, जिसके इस्तेमाल से जहां हजारों वृक्ष प्रतिवर्ष कटने से बचेंगे, वहीं करोड़ों रुपए की बचत भी होगी। उन्होंने कहा कि इसके इस्तेमाल से समय की बचत, कार्य में दक्षता तथा पारदर्शिता आएगी।

उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश विधान सभा ई-विधान प्रणाली, ई-निर्वाचन क्षेत्र प्रबंधन, ई-समिति, ई-डायरी (E-Diary) तथा विधायकों के इस्तेमाल के लिए मोबाइल ऐप (Mobile App) जैसी आधुनिक तथा नवीनतम डिजिटल प्रणाली की दिशा में काफी आगे बढ़ गई है। इस अवसर पर लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला, हिमाचल प्रदेश विधानसभा सचिव यशपाल शर्मा व विभिन्न देशों के प्रतिनिधि भी उपस्थित थे।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है