Covid-19 Update

1,98,361
मामले (हिमाचल)
1,90,296
मरीज ठीक हुए
3,369
मौत
29,439,989
मामले (भारत)
176,417,357
मामले (दुनिया)
×

कोरोना के इलाज के लिए DRDO ने बनाई दवा, इमरजेंसी इस्तेमाल को सरकार की मंजूरी

मरीजों की ऑक्सीजन की जरूरत को भी कम करती है ये दवा

कोरोना के इलाज के लिए DRDO ने बनाई दवा, इमरजेंसी इस्तेमाल को सरकार की मंजूरी

- Advertisement -

कोरोना की दूसरी लहर से जूझ रहे देशवासियों के लिए सुकून देने वाली खबर सामने आई है। यूं तो इस कोरोनाकाल में ऐसा कुछ नहीं हो रहा है,लेकिन दवा के नाम पर ये खबर कुछ राहत दे सकती है। डीआरडीओ (DRDO) की एक लैब इंस्टीट्यूट ऑफ न्यूक्लियर मेडिसिन एंड एलाइड साइंसेज द्वारा डॉक्टर रेड्डी की लैब के साथ मिलकर बनाई गई कोरोना की ओरल दवा-2-डी ऑक्सी-डी-ग्लूकोज (2-D Oxy-D-Glucose)को भारत में इमरजेंसी (Emergency)इस्तेमाल के लिए मंजूरी दे दी गई है। कहा जा रहा है कि इस दवा के क्लिनिकल ट्रायल के नतीजे बता रहे हैं कि ये दवा मरीजों की ऑक्सीजन की जरूरत को भी कम करती है।

ये भी पढ़ेःऑक्सीजन आवंटन के लिए सुप्रीम कोर्ट ने बनाई Task Force -टॉप डॉक्टर्स शामिल


कोरोना महामारी में ये दवा काफी फायदेमंद साबित हो सकती है। इस दवा को लेने वाले कोरोना (Corona)मरीजों की रिपोर्ट आरटी-पीसीआर टेस्ट में नेगेटिव आई है। अप्रैल 2020 में कोरोना की पहली लहर के दौरान वैज्ञानिकों ने हैदराबाद के सेंटर फॉर सेल्युलर एंड मॉलिक्यूलर बायोलॉजी की मदद से प्रयोगशाला में प्रयोग किए गए। मई 2020 में इस दवाई के दूसरे चरण के ट्रायल को मंजूरी दी गई थी। मई से अक्टूबर 2020 के दौरान किए गए परीक्षणों में दवा कोरोना के रोगियों में सुरक्षित पाई गई,इन लोगों की रिकवरी में भी सुधार देखा गया था। इसके बाद इसका परीक्षण 110 रोगियों पर किया गया। जिन रोगियों का इलाज 2-डीजी (2-DG) के साथ किया गया,उनमें तेजी से सुधार देखा गया था। इसके चलते ही अब इसके इमरजेंसी इस्तेमाल को मंजूरी प्रदान की गई है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है