हेल्दी रहने के लिए पीएं हर्बल टी और कॉफी

हेल्दी रहने के लिए पीएं हर्बल टी और कॉफी

- Advertisement -

सुबह व शाम को चाय व कॉफी पीना हमारी आदत में शुमार है। दिन में ज्यादा चाय व कॉफी पीना सेहत के लिए ठीक नहीं है। इनमें मौजूद कैफीन, इसको हानिकारक बनाती है। यदि आप अधिक कॉफी पीते हैं तो यह आपके शरीर को चाय के मुकाबले अधिक नुकसान पहुंचा सकती हैं। इसके लिए सबसे बेहतर यह होगा कि आप हर्बल टी और कॉफी पीएं। यह दिल की बीमारियों, बुखार, ब्लड प्रेशर, ब्लड प्यूरिफिकेशन और किडनी के लिए बेहद फायदेमंद है। इतना ही नहीं आयुर्वेदिक चाय और कॉफी अथरोसक्लेरोसिस और पार्किनसंस डिजीज का खतरा भी घटाती है और दिमाग को अलर्ट रखने में मदद करती है। हर्बल टी और कॉफी को अगर आप बिना चीनी और दूध के पिएंगे तो यह बहुत ही फायदेमंद रहेगी। हर्बल टी और कॉफी कैफीन नहीं होता और यह दिल, दिमाग और खून से जुड़ी कई बीमारियों में राहत पहुंचाने का काम करती है। आयुर्वेदिक टी और कॉफी से स्किन एलर्जीस और नर्वस वीकनेस को भी ठीक किया जा सकता है।

कैसे बनाएं हर्बल टी

सामग्री – कासिया फ्लावर पाउडर – 40 ग्राम, बुटिया मोनोस्पर्मा फ्लावर पाउडर – 40 ग्राम, फ्राइड धनिया पाउडर – 40 ग्राम, सुगंधा जड़ पाउडर – 40 ग्राम, कॉटन सीड पाउडर – 40 ग्राम, इलाइची दाना पाउडर – 30 ग्राम, सूखी गुलाब कली पाउडर – 30 ग्राम,

ऐसे बनाएंः तमाम सामग्री को एक साथ मिला कर एक जार में रख लें। जब भी चाय पीनी हो तो 500 मिली लीटर पानी में 1 चम्मच पाउडर को मिलाएं और इसे तब तक उबालें जबतक कि पानी सूख कर आधा यानी 250 मिली लीटर न रह जाए। अब इसमें मिठास के लिए गुड़ मिलाएं और गर्मा गरम पिएं। यह चाय दिन में दो बार पी जा सकती है। दिनभर कंप्यूटर पर काम करने वालों को यह चाय रिलीफ देने का काम करती है। इससे हार्ट की फंक्शनिंग बेहतर होती है और नींद न आने की समस्या से भी छुटकारा मिलता है।

हर्बल कॉफी रेसिपीः

सामग्रीः गिलाइ पौधे का पाउडर – 50 ग्राम, नीम की छाल का पाउडर – 50 ग्राम, कृष्णा तुलसी पौधे का पाउडर – 50 ग्राम, सूखी काली मिर्च का पाउडर – 25 ग्राम, धनिया पाउडर – 25 ग्राम, अदरक पाउडर – 10 ग्राम।

ऐसे करें तैयारः सभी सामग्री को एक साथ मिला कर एक जार में भर लें। एक चम्मच पाउडर को 250 मिली लीटर पानी में डाल कर उबालें। इसे तब तक उबालें जब तक कि पानी आधा न रह जाए। इसमें गुड़ डालकर गर्मा गरम पिएं। यह कॉफी दिन में दो बार पी जा सकती है। यह इम्यूनिटी बढ़ाती है और बुखार, बदहजमी एलर्जी आदि से बचाती है। यह कॉफी बारिश और सर्दी के मौसम में ज्यादा गुणकारी होती है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है