Covid-19 Update

1,54,664
मामले (हिमाचल)
1,15,610
मरीज ठीक हुए
2219
मौत
24,372,907
मामले (भारत)
162,538,008
मामले (दुनिया)
×

टल्ली गुरुओं में से एक को मिली मात्र रिलीव होने की सजा

टल्ली गुरुओं में से एक को मिली मात्र रिलीव होने की सजा

- Advertisement -

drunk teacher: नशे में धुत्त अन्य का पता लगाने में नाकाम रहे पदाधिकारी

drunk teacher: गफूर खान/धर्मशाला। स्काउट एंड गाइड के कैंप में रात को शराब पीकर स्कूल परिसर में मौजूद अध्यापकों के मामले में शिक्षा विभाग और स्कूल प्रबंधन हरकत में आया है। विभाग के निर्देशों पर स्कूल प्रशासन ने इस मामले में एक अध्यापक को कैंप से रिलीव कर दिया है, लेकिन कुल कितने अध्यापक स्कूल परिसर में शराब पीकर मौजूद थे इसका पता न तो विभाग लगा पाया और न ही स्काउट एंड गाइड के वहां मौजूद पदाधिकारी और प्रतिनिधि जो कि इस बात का दावा कर रहे थे कि सभी की पहचान कल ली जाएगी। गुरुवार सुबह स्कूल प्रबंधन ने मामले में दोषी एक अध्यापक को रिलीव कर दिया और विभागीय छानबीन के बाद आगामी कार्रवाई की बात कही जा रही है। वहीं, इस मामले में संलिप्त अन्य अध्यापकों पर कार्रवाई के बारे में स्कूल प्रबंधन और विभाग खामोश है।


रात को नशे में घुम रहे थे अध्यापक

स्काउट एंड गाइड के कैंप में बुधवार रात को कुछ अध्यापक शराब का सेवन करके घूम रहे थे। जब इस बात की जानकारी स्काउट एंड गाइड के प्रतिनिधियों को दी गई तो वे मामले की मौके पर छानबीन के बजाय मामले को टालने में लग गए। सब लोग सुबह कार्रवाई की बात करने लगे और सुबह वही हुआ जिसका अंदेशा था। दबाव में आकर मामले में लीपापोती करते हुए एक अध्यापक को कैंप से निकाल दिया गया, लेकिन अन्य अध्यापकों की जानकारी तक जुटाना मुनासिब नहीं समझा गया जो नशे में धुत्त थे।


इस मामले में शराब पीकर आने वाले अध्यापकों से ज्यादा उनका संरक्षण करने वाले अधिकारी जिम्मेदार हैं क्योंकि संरक्षण होने पर इस तरह की घटनाओं की पुनरावृत्ति होती है। कुछ समय पूर्व भी ज्वालामुखी में स्काउट एंड गाइड के राज्य स्तरीय कैम्प में अध्यापकों ने शराब पीकर हुड़दंग मचाया था और महिला अध्यापकों के कमरों के दरवाजे तोड़ने लग पड़े थे। उस मामले में भी कठोर कार्रवाई की बजाए जमकर लीपापोती का प्रयास किया गया था।

विभागीय छानबीन के बाद होगी अनुशासनात्मक कार्रवाई

डिप्टी डॉयरेक्टर उच्च शिक्षा जिला कांगड़ा केके गुप्ता ने बताया कि एक शिक्षक को कैंप से रिलीव कर दिया गया है। उसके खिलाफ विभागीय छानबीन के बाद अनुशासनात्मक कार्रवाई भी अमल में लाई जाएगी। गुप्ता का कहना है कि इस तरह के मामलों की पुनरावृत्ति न हो इसके पूरे प्रयास किए जाएंगे।

यह भी पढ़ें – नशे में धुत्त होकर घूम रहे Teacher, लड़कियां असुरक्षित

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है