Covid-19 Update

2,05,061
मामले (हिमाचल)
2,00,704
मरीज ठीक हुए
3,498
मौत
31,396,300
मामले (भारत)
194,663,924
मामले (दुनिया)
×

Dumping Site की आग बुझाने में नाकाम हुआ नगर निगम प्रशासन

Dumping Site की आग बुझाने में नाकाम हुआ नगर निगम प्रशासन

- Advertisement -

dumping site: धर्मशाला। जहरीली गैस के धुएं से नगर निगम धर्मशाला के लोगों को फिलहाल राहत मिलने के आसार नहीं हैं। निगम की डंपिंग साइट पर कचरे के पहाड़ में लगी आग को बुझाने में नगर निगम प्रशासन नाकाम हो गया है। अब प्रशासन के पास एकमात्र विकल्प यही बचा है कि कचरे के पहाड़ में सुलगती आग खुद ही बुझ जाए या फिर इतनी बारिश हो कि आग की लपटें शांत हो जाएं।

dumping site: मीथेन गैस की आग पर काबू पाने का नहीं मिला कोई उपाय

इस डंपिंग साइट पर सुलगते कचरे के बारे में निगम और जिला प्रशासन का तर्क यह है कि कचरे से मीथेन गैस उत्पन्न हो रही है और इस जहरीली गैस की वजह से सुलगती आग पर काबू पाना आसान नहीं है। डीसी कांगड़ा सीपी वर्मा ने भी धर्मशाला में डंपिंग साइट पर कचरे के सुलगने से हो रहे जहरीली गैस के उत्सर्जन को शीघ्र नियंत्रित करने के लिए धर्मशाला नगर निगम के अधिकरियों को निर्देश दिए थे। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को लोगों की सेहत और पर्यावरण सुरक्षा के लिए सभी जरूरी उपाय करने और आवश्यक कदम उठाने को कहा था।


वर्मा ने कहा था कि डंपिंग साइट पर कचरे के विघटन के कारण मीथेन गैस के निकलने से हो रही रासायनिक क्रिया के चलते कचरा सुलग रहा है, जिसे बुझाने के लिए पानी डालने के साथ ही मिट्टी का भी प्रयोग किया जा रहा है, लेकिन मीथेन गैस के निकलने से रासायनिक क्रिया के कारण थोड़ी थोड़ी मात्रा में आकस्मिक अग्नि उत्पन्न हो रही है, जिससे स्थिति पर काबू पाने में कठिनाई पेश आ रही है। इस समस्या से निपटने के लिए विशेषज्ञों की मदद लेने की बात भी कही गई थी जोकि सिरे नहीं चढ़ पाई है। डीसी कांगड़ा का कहना है कि फिलहाल आग पर काबू पाने का कोई उपाय नहीं मिला है। अब इस आग के खुद बुझने का इंतजार है।

अब डंपिंग साइट बदलने का लिया निर्णय, जिला प्रशासन ने दो साइट की चिन्हित

अब डंपिंग साइट को बदलने का निर्णय लिया गया है ताकि व्यवस्थित तरीके से कूड़े कचरे का निष्पादन हो सके। इसके लिए दो स्थान चिन्हित किए गए हैं।जल्द ही औपचारिकताएं पूरी करके उचित स्थान पर डंपिंग साइट बनाई जाएगी और वहीं कूड़ा संयंत्र भी स्थापित किया जाएगा। बताते चलें कि नगर निगम धर्मशाला की एचआरटीसी वर्कशॉप के सात सटी डंपिंग साइट में पिछले करीब एक माह से आग सुलग रही है।  इससे जहरीला धुआं निकल रहा है जो कि धर्मशाला शहर और साथ लगते इलाकों में फैल रहा है।

यह भी पढ़ें-रिवालसर झील में मरी हजारों मछलियां

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है