Covid-19 Update

59,059
मामले (हिमाचल)
57,473
मरीज ठीक हुए
984
मौत
11,204,179
मामले (भारत)
116,873,133
मामले (दुनिया)

Giri नदी में Sewage का पानी डालने पर गुस्साए लोग, 1 घंटा Road पर लगाया जाम 

Giri नदी में Sewage का पानी डालने पर गुस्साए लोग, 1 घंटा Road पर लगाया जाम 

- Advertisement -

शिमला। जिला की गिरी नदी में सीवरेज की गंदगी सहित अन्य गंदा पानी छोड़ने के चलते छैला-कोटखाई-रोहड़ू मार्ग करीब 1 घंटे तक बाधित रहा। इस दौरान जहां प्रदेश सरकार के विरुद्ध नारेबाजी हुई, वहीं नदी में गंदगी फैलाने के दोषियों पर कार्रवाई करने की मांग उठी। जानकारी के अनुसार शिमला जिला के छैला में अवैध रूप से गिरी नदी में सीवरेज और अन्य गंदा पानी छोड़ा जा रहा है। इसके विरोध में रविवार को भारत की जनवादी नौजावन सभा (डीवाईएफआई) और अन्य जनसंगठनों ने विरोध प्रदर्शन किया। इस दौरान कार्यकर्ताओं ने छैला-कोटखाई-रोहड़ू मार्ग पर चक्का जाम कर सरकार के खिलाफ नारेबाजी की और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की।

होटलों-घरों पर लगाया गंदगी फैलाने का आरोप

माकपा के युवा संगठन का आरोप है कि ठियोग और शिमला के लिए जो गिरी नदी से पीने का पानी जाता है उस पानी में सीवरेज का पानी छोड़ा जा रहा है। छैला में खुले होटल और अन्य घरों से गंदा पानी इस नदी में बहाया जा रहा है और इससे पानी दूषित हो रहा है। ऐसे में इस पानी से पीलिया फैलने का खतरा है। डीवाईएफआई के राज्य सचिव कपिल भारद्वाज ने कहा कि छैला में गिरी नदी में सीवरेज का पानी मिल रहा है और इस पर प्रशासन कोई ध्यान नहीं दे रहा। उन्होंने मांग की कि इस पर तत्काल कार्रवाई की जाए और सीवरेज का नदी में जाना तुरंत बंद करवाया जाए। 

डीएसपी-तहसीलदार के आश्वासन के बाद माने आंदोलनकारी

छैला-कोटखाई-रोहड़ू मार्ग पर यातायात बंद होने के बाद ठियोग के डीएसपी पुलिस बल के साथ वहां पहुंचे और आंदोलनकारी युवाओं को मार्ग से हटाने का प्रयास करने लगे।
डीएसपी के साथ तहसीलदार भी मौके पर पहुंचे थे। इस दौरान तहसीलदार ने मौके पर आंदोलनकारियों को शांत किया और मार्ग खोलने को राजी किया। इस दौरान तहसीलदार ने आश्वासन दिया कि गिरी नदी में बन रहे सीवरेज के टैंक को तुरंत तोड़ा जाएगा और जो लोग अवैध रूप से नदी में सीवरेज का पानी खुला फेंक रहे हैंए उनके ढाबों को बंद करवाकर कार्रवाई की जाएगी। 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है