- Advertisement -

सर्दियों में रखें खानपान का ध्यान, खाएं ये स्पेशल फूड

0

- Advertisement -

मौसम के अनुसार खानपान में कई तरह के बदलाव किए जाते हैं। कुछ चीजें ऐसी भी होती हैं जिनका सेवन सिर्फ किसी विशेष मौसम में ही किया जाता है। आजकल सर्दियों का मौसम चल रहा है आयुर्वेद के अनुसार सर्दियों में कुछ स्पेशल फूड का सेवन जरूर करना चाहिए। इनके सेवन से सालभर बीमारियां दूर रहती हैं …

पिंड खजूर : सर्दियों में पिंड खजूर का सेवन शरीर के लिए लाभदायक रहता है। पिंड खजूर में प्रोटीन, वसा और शर्करा पर्याप्त मात्रा पाई जाती हैं। कैल्शियम, आयरन भी पाया जाता है, साथ ही विटामिन ए, बी और सी भी पाए जाते हैं। पूरी तरह से पके हुए खजूर में शर्करा की मात्रा 85 प्रतिशत तक होती है। प्रति 100 ग्राम खजूर के सेवन से 283 कैलोरी ऊर्जा मिलती है।

बादाम: बादाम कई गुणों से भरपूर होते हैं। इसका नियमित सेवन अनेक बीमारियों से बचाव में मददगार है।अक्सर माना जाता है कि बादाम खाने से याददाश्त बढ़ती है,लेकिन यह ड्राय फ्रूट कई रोगों से हमारी रक्षा भी करता है। इसके सेवन से कब्ज की समस्या दूर हो जाती है, जो सर्दियों में सबसे बड़ी दिक्कत होती है। बादाम में डायबिटीज को नियंत्रित करने का गुण होता है। इसमें विटामिन – ई भरपूर मात्रा में होता है।

बाजरा : कुछ अनाज शरीर को सबसे ज्यादा गर्मी देते हैं। बाजरा एक ऐसा ही अनाज है। सर्दी के दिनों में बाजरा की रोटी बनाकर खाएं। छोटे बच्चों को बाजरा की रोटी जरूर खिलानी चाहिए। इसमें कई स्वास्थ्यवर्धक गुण भी होते है। अन्य अनाजों की अपेक्षा बाजरा में सबसे ज्यादा प्रोटीन की मात्रा होती है। इसमें वे सभी गुण होते हैं, जिससे स्वास्थ्य ठीक रहता है। ग्रामीण इलाकों में बाजरा से बनी रोटी व टिक्की को सबसे ज्यादा जाड़ों में पसंद किया जाता है। बाजरा में शरीर के लिए आवश्यक तत्व जैसे मैग्निशियम,कैल्शियम,मैग्नीज, ट्रिप्टोफेन, फाइबर, विटामिन बी, एंटीऑक्सीडेंट आदि भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं।

केसर : केसर का वानस्पतिक नाम क्रोकस सैटाइवस है। केसर का स्वाद कड़वा होता है, लेकिन खुशबू के कारण इसका उपयोग किया जाता है। इसमें प्रमुख रूप से कैरोटिन, लाइकोपिन, जियाजैंथिन, क्रोसिन, पिकेक्रोसिन आदि पाए जाते हैं। इसमें ईस्टर कीटोन व सुगंधित तेल भी कुछ मात्रा में मिलते हैं। अन्य रासायनिक यौगिकों में तारपीन एल्डिहाइड और तारपीन एल्कोहल भी पाए जाते हैं। इन रासायनिक व कार्बनिक यौगिकों की उपस्थिति केसर को अनमोल औषधि बनाती है। सर्दियों में केसर का उपयोग लाभदायक रहता है, क्योंकि इसकी तासीर को आयुर्वेद में गर्म माना गया है। ठंड में इसके सेवन से इम्यूनिटी पावर बढ़ता है व पौरुष और सौंदर्य में भी वृद्धि होती है।

अदरक: क्या आप जानते हैं कि खाने में अदरक शामिल करने से बहुत सी छोटी-बड़ी बीमारियों से बचा भी जा सकता है।अदरक वाकई में गुणकारी है। सर्दियों में इसका किसी भी तरह से सेवन करने पर बहुत लाभ मिलता है। इससे शरीर को गर्मी मिलती है और पाचन क्रिया दुरुस्त रहती है।

शहद : शरीर को स्वस्थ, निरोग और उर्जावान बनाए रखने के लिए शहद को आयुर्वेद में अमृत भी कहा गया है। यूं तो सभी मौसम में शहद का सेवन लाभकारी है, लेकिन सर्दियों में शहद का उपयोग विशेष लाभकारी होता है। ठंड के दिनों में अपने भोजन में शहद को जरूर शामिल करें। इससे डायजेशन में सुधार होगा और प्रतिरक्षा प्रणाली पर भी असर पड़ेगा।

- Advertisement -

Leave A Reply