Covid-19 Update

2,18,202
मामले (हिमाचल)
2,12,736
मरीज ठीक हुए
3,650
मौत
33,652,745
मामले (भारत)
232,392,789
मामले (दुनिया)

ECG टेक्नीशियन मशीन खराब होने का बहाना बनाकर Duty से गायब, रात भर भटकते रहे लोग

ECG टेक्नीशियन मशीन खराब होने का बहाना बनाकर Duty से गायब, रात भर भटकते रहे लोग

- Advertisement -

मंडी। ईसीजी मशीन खराब होने का बहाना बनाकर ईसीजी टेक्नीशियन (ECG Technician) रात को ड्यूटी से गायब हो गया। रात को अस्पताल आए मरीज के तीमारदारों को मरीज का ईसीजी करवाने के लिए दर दर भटकना पड़ा। आखिर में एक प्राइवेट ईसीजी टेक्नीशियन जो कोरोना के डर से अस्पताल आने को तैयार नहीं था के सामने तीमारदारों ने हाथ पैर जोड़े और अस्पताल लाकर ईसीजी करवाया। मामला हिमाचल प्रदेश के मंडी जिला के जोनल अस्पताल का है। यहां ईसीजी करने वाला टेक्नीशियन रात को ड्यूटी से गायब (Disappeared from Duty) था और उसने बहाना मशीन खराब होने का बना दिया। मरीज को लेकर आए तीमारदारों को प्राइवेट ईसीजी टेक्नीशियन को हॉस्पिटल में लाकर ईसीजी करवानी पड़ी, जिसके बाद मरीज की गंभीर स्थिति को देखते हुए उसे शिमला रेफर कर दिया गया। मामले का खुलासा होते ही डीसी मंडी (DC Mandi) ने इस मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं।

यह भी पढ़ें: पोस्टर फाड़ने का मामलाः BJP युवा मोर्चा कार्यकर्ताओं के खिलाफ शिकायत, जांच में जुटी Police

 

जानकारी देते हुए बल्ह उपमंडल के बडसू गांव निवासी रवि कुमार और राजेंद्र कुमार ने बताया कि उनके चाचा जगदीश को रात को सीने में तेज दर्द हुआ। जगदीश कुमार को पहले भी हार्ट अटैक (heart attack) हो चुका था और एक स्टंट भी पड़ा हुआ है। रात को जब उन्हें जोनल हॉस्पिटल मंडी (Zonal Hospital Mandi) लाया गया तो डॉक्टर ने तुरंत ईसीजी करने को कहा। दोनों भाई ईसीजी की तलाश में इधर से उधर भागे और पता चला कि ईसीजी मशीन खराब है, जिस कारण ईसीजी नहीं हो सकती। इसके बाद दोनों निजी टेक्नीशियन के पास पहुंचे तो उन्होंने कोरोना का खौफ देखते हुए हॉस्पिटल में जाने से इनकार कर दिया।

यह भी पढ़ें: Chamba में हादसा- शादी में जा रहे व्यक्ति की कार खाई में गिरी, गई जान

 

निजी टेक्नीशियन के सामने हाथ-पैर जोड़कर और मिन्नतें करने के बाद वह हॉस्पिटल आया और मरीज की ईसीजी की। ईसीजी में गड़बड़ी देखते ही ड्यूटी पर तैनात डॉक्टर ने बीना समय गंवाए मरीज को शिमला रेफर कर दिया। जब इस बारे में डीसी मंडी ऋग्वेद ठाकुर से बात की गई और उन्होंने मामले की जांच पड़ताल की तो पाया कि रेडक्रॉस के माध्यम से हॉस्पिटल में दो मशीनें उपलब्ध करवाई गई हैं और यह दोनों ही ठीक हैं। उन्होंने बताया कि रात को टेक्नीशियन ड्यूटी से नदारद था और उसने मशीन खराब होने का झूठा बहाना बनाया था। इस संदर्भ में मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं। बता दें कि जोनल हॉस्पिटल मंडी में रेडक्रॉस (Red Cross)के माध्यम से ईसीजी की सुविधा मुहैया करवाई जा रही है। यहां से आए दिन यही शिकायतें आ रही हैं कि ईसीजी की समय पर सुविधा नहीं मिलती। जांच पड़ताल करने पर यह भी पता चला है कि रेडक्रॉस रविवार और अन्य छुट्टी वाले दिन ईसीजी की सुविधा मुहैया नहीं करवा रही है।

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी Youtube Channel

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है