Covid-19 Update

58,800
मामले (हिमाचल)
57,367
मरीज ठीक हुए
983
मौत
11,137,922
मामले (भारत)
115,172,098
मामले (दुनिया)

बदलाव : अब 100 नहीं 112 नंबर Dial करने पर मिलेगी Police सहायता

बदलाव : अब 100 नहीं 112 नंबर Dial करने पर मिलेगी Police सहायता

- Advertisement -

वी कुमार/मंडी। प्रदेश में अब 100 नंबर नहीं 112 डॉयल करने पर पुलिस सहायता मिलेगी। जल्द ही यहां व्यवस्था बदलने वाली है। भारत सरकार ने एनईआरएस यानी नेशनल इमरजेंसी रिस्पांड सिस्टम के तहत देश भर में पुलिस, एंबुलेंस और फायर की सहायता के लिए एक ही नंबर जारी करने का निर्णय लिया है। प्रत्येक प्रदेश में इसका एक कॉल सेंटर बनेगा। हिमाचल प्रदेश को इस योजना को शुरू करने के लिए पांच करोड़ की राशि प्राप्त हो चुकी है। इससे प्रदेश में 108 एंबुलेंस सेवा की तर्ज पर एक कॉल सेंटर बनेगा, जहां एक समय में सैकड़ों लोग आसानी से बात कर पाएंगे।
यह सब कुछ एक सॉफ्टवेयर के माध्यम से होगा। प्रत्येक पुलिस थाना और चौकियों की गाडि़यों में एक टैब लगाया जाएगा, जिसमें इस सॉफ्टवेयर की एप्लीकेशन इंस्टाल होगी। साथ ही पुलिस कर्मियों के मोबाइल फोन पर भी इस एप को इंस्टाल किया जाएगा। जैसे ही मदद मांगने वाला 112 पर कॉल करेगा तो कॉल सेंटर पर उसकी लोकेशन भी दिख जाएगी। कॉल सेंटर से मदद मांगने वाले की लोकेशन के नजदीकी पुलिस थाना, चौकी या कर्मी से संपर्क साधा जाएगा और तत्काल मदद पहुंचाने का प्रयास किया जाएगा। खास बात यह रहेगी कि यदि मदद मांगने के बाद आपका नंबर बंद भी हो गया तो भी आपकी लोकेशन ट्रेस की जा सकेगी।

प्रदेश में एनईआरएस के तहत शुरू होगी योजना

एसपी मंडी अशोक कुमार ने इसकी पुष्टि करते हुए बताया कि एनईआरएस के तहत प्रदेश में इस योजना को शुरू किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि 100 के स्थान पर 112 नया नंबर होगा और उस पर कॉल करके पुलिस, एम्बुलेंस और फायर से संबंधित सहायता ली जा सकेगी। इससे लोगों की उस शिकायत का समाधान होगा जिसमें अकसर कहा जाता है कि सही समय पर पुलिस ने रिस्पांड नहीं किया। इस सिस्टम के शुरू हो जाने से फोन अंगेज जाने की समस्या का भी समाधान हो जाएगा। क्योंकि एक समय में एक हजार से भी अधिक लोग बात कर सकेंगे। यदि इसमें आपदा के समय अधिक कॉल आने लग जाएंगी तो यह ऑटोमेटिड आंसर सिस्टम पर कॉल को डायवर्ट कर देगा। इससे बिना कॉल सेंटर बात किए हुए व्यक्ति की लोकेशन के आधार पर नजदीकी पुलिस थाना, चौकी या पुलिस कर्मी को कॉल ट्रांसफर हो जाएगी। जानकारी के अनुसार इस सिस्टम की टेंडर प्रक्रिया शुरू हो चुकी है और ऐसा माना जा रहा है कि दो से तीन महीनों के भीतर पूरे हिमाचल प्रदेश में यह नंबर जारी हो जाएगा। हालांकि अभी भी 112 पर कॉल जा रही हैं, क्योंकि अभी इस नंबर को 100 नंबर पर डायवर्ट किया गया है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है