×

Old Pension बहाली की मांग को लेकर कर्मियों ने 2 घंटे ठप्प रखा कामकाज

न्यू पेंशन स्कीम कर्मचारी संघ को मिला अन्य संगठनों का साथ, आंदोलन की दी चेतावनी

Old Pension बहाली की मांग को लेकर कर्मियों ने 2 घंटे ठप्प रखा कामकाज

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी। नई पेंशन स्कीम कर्मचारी महासंघ (New Pension Scheme Employees Federation) के आवाहन पर हिमाचल प्रदेश के समस्त कर्मचारियों ने प्रदेश के सभी सरकारी कार्यालयों में पेन डाउन हड़ताल (Pen Down Strike) की गई। पिछले 3 साल से प्रदेश सरकार (State Govt) से कर्मचारी पेंशन बहाली की मांग कर रहे हैं। मंत्री विधायक और कई बार सीएम जयराम (CM Jai Ram) के समक्ष अपनी बात रखने के बावजूद भी एनपीएस कर्मचारियों को पेंशन तो दूर की बात अभी तक वह लाभ भी नहीं दिए गए जो केंद्र सरकार अपने कर्मचारियों को दे रही है, इससे कर्मचारी खासे नाराज हैं।


यह भी पढ़ें: हिमाचल में पुरानी पेंशन बहाली को सड़कों पर उतरा NPS कर्मचारी महासंघ

 

इसी कड़ी में मंडी जिला में भी सुबह 11 से 1 बजे के बीच में सरकारी कार्यालयों (Govt office) में पेन डाउन स्ट्राइक की गई। महासंघ के मंडी जिला अध्यक्ष लेख राज ने बताया कि सभी पेंशन विहीन कर्मचारी लगातार अपनी पुरानी पेंशन बहाली के लिए प्रयासरत हैं जिसके लिए समय-समय पर सरकार के समक्ष पुरानी पेंशन बहाली के लिए अपनी मांग विभिन्न तरीकों से रखी गई, लेकिन सरकार द्वारा अभी तक कर्मचारियों की पुरानी पेंशन बहाली बारे में कुछ नहीं किया गया है। कर्मचारी संघ (Employees Union) ने मुख्यमंत्री द्वारा 6 मार्च को 2003 से 2017 के बीच भर्ती हुए कर्मचारियों के लिए ग्रेजुएटी की घोषणा की अधिसूचना भी जल्द लागू करने की मांग उठाई है। न्यू पेंशन स्कीम कर्मचारी महासंघ ने सरकार को चेतावनी दी है कि अगर अभी भी पुरानी पेंशन बहाली की तरफ सरकार कोई कदम नहीं उठाती तो फिर आने वाले समय में बड़ा आंदोनल किया जाएगा।

कांगड़ा में भी भड़के कर्मचारी

 

कांगड़ा। जिला प्रधान रजिंदर मन्हास ने बताया कि पिछले 3 साल से प्रदेश सरकार से कर्मचारी पेंशन बहाली की मांग को लेकर मिल रहे हैं, लेकिन उनकी किसी ने नहीं सुनी। एसोसिएशन के वरिष्ठ उपाध्यक्ष संतोष पराशर ने बताया कि कांगड़ा के 15 विधानसभा क्षेत्रों में हर कार्यालय के कर्मचारियों ने इसमें सहभागिता निभाई और दो घंटे कोई काम नही किया। एसोसिएशन के कांगड़ा (Kangra) से राज्य वरिष्ठ उपाध्यक्ष सौरभ वैध, राज्य मीडिया प्रभारी पंकज शर्मा, राज्य मुख्य प्रवक्ता सुभाष शर्मा, महिला विंग राज्य संगठन सचिब पूजा सबरवाल, राज्य महिला विंग उपाध्यक्ष मोनिका राणा, राज्य महिला विंग महासचिव ज्योतिका मेहरा ने सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर आगामी विधानसभा सत्र में कर्मचारियों को वह लाभ भी नहीं दिए गए जो केंद्र दे रहा है तो यह आंदोलन और उग्र रूप धारण कर लेगा।

 

 

ये भी पढ़ेः धर्मशाला में NPS कर्मियों का धरना 24 को, नवंबर में पेन डाउन स्ट्राइक को चेताया

 

 

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी YouTube Channel

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है