Covid-19 Update

2,01,210
मामले (हिमाचल)
1,95,611
मरीज ठीक हुए
3,447
मौत
30,134,445
मामले (भारत)
180,776,268
मामले (दुनिया)
×

शौचमुक्त घोषित कुल्लू में आज भी सैकड़ों लोग खुले में जा रहे शौच

शौचमुक्त घोषित कुल्लू में आज भी सैकड़ों लोग खुले में जा रहे शौच

- Advertisement -

कुल्लू। सरकारी आंकड़ों में पूरी तरह से 100 प्रतिशत खुले शौच मुक्त कुल्लू (Kullu) में आज भी सैकड़ों लोग खुले में शौच कर रहे हैं। यह लोग वह प्रवासी मजदूर हैं जो यहां झुग्गी झोंपड़ियों में रहते हैं। सरकारी आंकड़ों के अनुसार कुल्लू जिला 3 वर्ष पहले पूरी तरह से 100 प्रतिशत खुला शौच मुक्त हो गया है, जिसमें सभी लोगों के पास अपना शौचालय है।

यह भी पढ़ें: मणिमहेश मार्ग पर एक और हादसा टला, बस को पास देते लुढ़कने से बची कार


कुल्लू नगर परिषद, नगर पंचायत मनाली, भुंतर व बंजार के साथ पूरी जिला की 205 पंचायतों को खुला शौच ( defecating ) मुक्त घोषित किया है। लेकिन कुल्लू जिला में रह रहे हजारों प्रवासी मजदूर झुग्गी झोंपड़ी के लोगों के लिए सरकार व प्रशासन की तरफ से सामुदायिक शौचालय, बाथरूम का निर्माण नहीं किया है, जिसके चलते इन प्रवासी मजदूरों को मजबूरी के कारण खुले में नदी नालों के किनारे शौच व नहाना धोना पड़ रहा है। जिससे ब्यास नदी मैली हो रही है। पिछले कई वर्ष से एनजीटी के नियमों का उलंघन हो रहा है, लेकिन इसको लेकर न सरकार गंभीर है और ना प्रशासन।

बता दें कि सरवरी खड्ड (Sarvari khad) किनारे करीब पांच सौ से अधिक झुग्गियों में एक हजार से ऊपर रह रही जनता खुले में शौच, नहाने व कपड़े धोती है, जिससे स्वच्छ पानी दूषित हो रहा है। यहां तक कि कुल्लू जिला में सरवरी बस स्टैंड के पास झुग्गियों में रहने वाले मजदूरों के वोटर आई कार्ड भी बने हुए हैं, जिससे प्रवासी वोटरों ने स्थानीय नेताओं व प्रशासन पर अनदेखी का आरोप लगाया है। उनका कहना है कि चुनावों के समय में स्थानीय नेता वोट मांगने के समय झुग्गी झोंपड़ी के लिए उचित सुविधा के बड़े दावे करते हैं, लेकिन वोट देने के बाद शक्ल नहीं दिखातेए, जिससे झुग्गी झोंपड़ी में आज तक बिजली की सुविधा नहीं मिली है।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …. 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है