Covid-19 Update

1,99,430
मामले (हिमाचल)
1,92,256
मरीज ठीक हुए
3,398
मौत
29,685,946
मामले (भारत)
177,559,790
मामले (दुनिया)
×

हर साल Truck Driver देते हैं 47 हजार करोड़ से ज्यादा की रिश्वत : सर्वे में हुआ खुलासा

हर साल Truck Driver देते हैं 47 हजार करोड़ से ज्यादा की रिश्वत : सर्वे में हुआ खुलासा

- Advertisement -

नई दिल्ली। भारत में भ्रष्टाचार (Corruption) पर किए एक सर्वे में यह बात सामने आई है कि भारत में हर साल ट्रक ड्राइवर पुलिस को 47 हजार करोड़ तक की रिश्वत देते हैं। 1200 से अधिक ट्रक ड्राइवर्स पर सर्वे को करने के बाद यह खुलासा हुआ है। नवंबर 2019 में ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल (transparency International) ने भारत में सर्वे में सामने आया है कि नवंबर 2019 में भारत में 51 फीसदी लोगों ने किसी ना किसी काम के लिए सरकारी अधिकारियों-कर्मचारियों को रिश्वत देते हैं।

यह भी पढ़ें: पंचायतों में भ्रष्टाचार की होगी Vigilance जांच, सरकार तीन महीने के भीतर लेगी Action

सेव लाइफ फाउंडेशन ने ऑटो कंपनी महिंद्रा एंड महिंद्रा (Mahindra & Mahindra) के सहयोग से यह सर्वे किया है। यह सर्वे मुख्य रूप से दिल्ली-एनसीआर, मुंबई, चेन्नई, कोलकाता, बेंगलुरु, जयपुर, अहमदाबाद, गुवाहाटी, कानपुर और विजयवाड़ा में हुआ है। सर्वे में पाया गया है कि 53 फीसदी वाहन चाहक अपने पेशे से संतुष्ट नहीं हैं। इसके कारण अनियमित आय, अधिकारियों द्वारा उत्पीड़न और काम करने के अनियमित घंटे प्रमुख हैं। स्वास्थ्य समस्याएं और सामाजिक सुरक्षा भी ड्राइवर्स के असंतोष के कारण हैं। सर्वे में शामिल लगभग सभी ड्राइवर्स का कहना है कि वह रोजाना करीब 12 घंटे वाहन चलाते हैं। इसमें से 50 फीसदी ड्राइवर ऐसे हैं जो लगातार वाहन चलाते हैं चाहे वे थक जाएं या उन्हें नींद आ रही हो। तो वे ड्रग्स का सेवन करते हैं। सर्वे में शामिल पांच में से एक ड्राइवर ने माना कि वे वाहन चलाने के दौरान ड्रग्स का सेवन करते हैं।


हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी YouTube Channel…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है