Covid-19 Update

57,189
मामले (हिमाचल)
55,745
मरीज ठीक हुए
959
मौत
10,654,656
मामले (भारत)
98,988,019
मामले (दुनिया)

चुनाव आयोग की EVM हैक चुनौती से पीछे हटी AAP

चुनाव आयोग की EVM हैक चुनौती से पीछे हटी AAP

- Advertisement -

EVM tampering row : नई दिल्ली। ईवीएम मशीन गड़बड़ी मामले में आज नामांकन की आखिरी तारीख होने के बावजूद किसी भी पार्टी ने कोई नामांकन दाखिल नहीं किया है। इससे यह लगता है कि ईवीएम के मुद्दे पर सबसे ज्यादा शोर मचाने वाली आम आदमी पार्टी ने भी अपने कदम पीछे खींच लिए हैं। बता दें कि चुनाव आयोग ने ईवीएम मशीन के साथ गड़बड़ी हुई है या की जा सकती है को लेकर एक्सपर्ट के नामांकन मांगे थे और आज नामांकन भरने की आखिरी तारीख है। वहीं आप का कहना है कि चुनाव आयोग की चुनौती मौजूदा रूप से मंजूर नहीं है। हम हैकाथॉन में भाग लेंगे, ड्रामे में नहीं।

  • नामांकन दाखिल करने की अंतिम तिथि तक किसी पार्टी ने नहीं किया आवेदन

हैकाथॉन होगा तो हिस्सा लेंगे, प्रदर्शनी में हिस्सा क्यों लेंः आप
आप नेता गोपाल राय ने कहा कि ईसी हैकाथॉन कराएगा तो हिस्सा लेंगे, प्रदर्शनी में हिस्सा क्यों लें। आप इस बाबत चुनाव आयोग को चिट्ठी भेज रहे हैं कि हैकाथॉन करवाएं, मदर बोर्ड बदलने की इजाजत दें। आप का कहना है कि हमने विधानसभा में मदर बोर्ड बदलकर हैक करके दिखाया था। अगर हम ईवीएम हैक नहीं कर पाएंगे तो इससे लोकतंत्र मजबूत ही होगा।

गौरतलब है कि 20 तारीख को आयोग ने घोषणा की थी कि 3 जून से ईवीएम चैलेंज हो रहा है, जिसके लिए 26 मई तक पार्टियां जानकारों को नामित कर सकती हैं। इस बीच चुनाव आयोग ने आम आदमी पार्टी की उस मांग को ठुकरा दिया था जिसमें पार्टी ने ईवीएम से टैम्परिंग साबित करने के लिए मदर बोर्ड बदलने की इजाजत मांगी थी।

ये भी पढ़ेंः चंद सेकेंड नहीं EVM हैक करने वालों को चार घंटे

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है