Covid-19 Update

2,00,410
मामले (हिमाचल)
1,94,249
मरीज ठीक हुए
3,426
मौत
29,933,497
मामले (भारत)
179,127,503
मामले (दुनिया)
×

Jai Ram सरकार ने Kangra को ब्रिक्स से बाहर कर किया कुठाराघात, देखें Video

Jai Ram सरकार ने Kangra को ब्रिक्स से बाहर कर किया कुठाराघात, देखें Video

- Advertisement -

कांगड़ा। पूर्व मंत्री जीएस बाली (Ex Minister GS Bali) ने कहा है कि ब्रिक्स परियोजना (BRICS Project) के तहत कई पेयजल योजनाओं के प्रोजक्टों के निर्माण के लिए कांगड़ा जिला की योजनाओं को लाया जा रहा था। अचानक सरकार ने कांगड़ा जिला को ब्रिक्स से बाहर कर यहां के लोगों के साथ कुठाराघात किया है।। मीडिया से बातचीत के दौरान उन्होंने कहा कि प्रदेश के सीएम यह कहना कि कांगड़ा वाले उनका साथ नहीं दे रहे है कहां तक सत्य है क्योकि धर्मशाला से तो जनता ने बीजेपी (BJP) का विधायक को चुन कर भेजा हैं।

यह भी पढ़ें: जयराम बोले- जल्द तय की जाएगी Cabinet विस्तार की तारीख

बाली ने कहा कि प्रदेश के सबसे बड़े जिले के साथ पूरी तरह से अनदेखी हुई है विकास के कोई नए प्रोजेक्ट नहीं आए है। शीतकालीन प्रवास के दौरान कांग्रेस सरकार में शुरू की गई योजनाओं या प्रोजेक्टों के उद्घाटन हुए हैं। कांगड़ा हवाई अड्डे के विस्तारीकरण (Gaggal Airport Expansion) पर बाली ने कहा कि विकास के लिए हवाई अड्डा तो चाहिए परंतु यह देखना मौजूदा सरकार का काम है कि इस योजना को कैसे बनाया जाए ताकि कम से कम आम आदमी इससे प्रभावित हो।


प्रभावितों को उचित मुआवजा व उन्हें दूसरी जगह बसाना सरकार का काम है। बाली ने कहा कि जब कोई पीएम किसी प्राजेक्ट की आधार- शिला रखता है तो वह कार्य तीवेर गति से पूरा करवाया जाता है। परंतु यह अति दुर्भाग्यपूर्ण है कि सेंट्रल यूनिवर्सिटी की नीव पत्थर के बाद एक ईंट तक इतने समय मे नहीं लगी है। बाली ने कहा कि बेरोजगारी एक बहुत गंभीर मसला है परंतु सरकार उसपर ध्यान नहीं दे रही है। सीमेट के रेट रोज बढ़ रहे है। उन्होंने कहा कि सरकार की आर्थिक हालत इतनी खराब हो चुकी है कि वेतन देने के लिये हजारों करोड़ रूपये कर्ज लिया जा रहा है।

बाली ने कहा कि सरकार बताएं कि जो विद्युत प्राजेक्ट साइन हो रहे हैं, उसके तहत बिजली किस दाम पर सरकार उनसे खरीद रही है और दूसरे प्रदेशों को किन दामों में बेच रही है। उन्होंने कहा कि मटौर -ंशिमला व पठानकोट मंडी फोरलेन का निर्माण होना था। इस प्रोजक्ट को भी ठंडे बस्ते में डालकर इसे टू लेन करने की बात होने लगी है। केंद्रीय मंत्री नितिन गड़करी ने इसमें हस्तक्षेप करते फोरलेन बनने की बात की गई है। परंतु इतना समय बीतने पर अभी तक धरातल मे कुछ नहीं हुआ है।

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी YouTube Channel…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है