Covid-19 Update

58,598
मामले (हिमाचल)
57,311
मरीज ठीक हुए
982
मौत
11,096,731
मामले (भारत)
114,379,825
मामले (दुनिया)

केंद्रीय कर्मियों व पेंशनरों को 2 फीसदी महंगाई भत्ता

- Advertisement -

expensiveness allowance / नई दिल्ली। चार राज्यों के विधानसभा चुनाव जीत की खुशी में डूबी बीजेपी सरकार ने केंद्रीय कर्मचारियों को सौगात दी है। केंद्रीय कर्मचारियों का expensiveness allowance 2 फीसदी बढ़ा दिया गया है। कैबिनेट ने 2 फीसदी डीए दिए जाने को मुहर लगा दी है। यह expensiveness allowance 1 जनवरी, 2017 से देय होगा। वहीं पेंशनरों को भी यह तोहफा मिला है। इससे केंद्र के 50 लाख के करीब कर्मचारियों व 58 लाख के करीब पेंशनरों को लाभ होगा। बता दें कि केंद्रीय कर्मचारियों को काफी समय से expensiveness allowance का इंतजार था। आज लाखों कर्मचारियों व पेंशनरों का इंतजार खत्म हो गया है।

  • कैबिनेट ने लगाई मुहर, 1 जनवरी से होगा देय

इसे पढ़ें: Gang Rape: अखिलेश सरकार में मंत्री रहे Gaytri Prajapti Arrested

expensiveness allowance:अपने घर का सपना होगा साकार

केंद्र सरकार एंप्लॉयीज प्रविडेंट फंड मेंबर्स (ईपीएफओ) के नियमों में बड़े बदलाव की तैयारी में है। जल्द ही इसमें बदलाव होगा। अगर यह बदलाव होता है तो कर्मचारी पीएफ अकाउंट में मौजूद राशि में 90 फीसदी रकम घर खरीदने में इस्तेमाल कर सकेंगे। इससे सबसे बड़ा फायदा यह होगा कि घर खरीदने के इच्छुक कर्मचारियों को डाउन पेमेंट अदा करने में काफी सुविधा होगी। इस बात का खुलासा केंद्र सरकार ने आज संसद में किया है। केंद्रीय श्रम मंत्री बंडारू दत्तात्रेय ने ने संसद में कहा कि ईपीएफओ से पैसा निकालने के नियमों में बदलाव किया जा रहा है। नियम बदलने के बाद लोग घर खरीदने के लिए 90 फीसदी तक रकम निकाल सकेंगे। यही नहीं पीएफ अकाउंट के जरिए ईएमआई भी चुकता की जा सकेगी। इसमें यह शर्त होगी कि कम से कम 10 पीएफ होल्डरों को मिलकर एक को-ऑपरेटिव सोसाइटी का गठन करना होगा। इसके बाद ही वे लोग रकम निकाल सकेंगे। उन्होंने कहा कि अधिकतर कर्मचारी अपना पूरा जीवन किराए के मकानों में काटने के लिए मजबूर हैं। इसलिए सरकार लोगों को घर खरीदने में मदद करने की इच्छुक है।  बता दें कि फिलहाल ईपीएफओ के दायरे में आने वाले सभी कर्मचारियों को अपने मूल वेतन का 12 फीसदी भविष्य निधि में देना होता है। इसमें मूल वेतन के अलावा महंगाई भत्ता शामिल होता है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है