Covid-19 Update

2,05,874
मामले (हिमाचल)
2,01,199
मरीज ठीक हुए
3,504
मौत
31,612,794
मामले (भारत)
198,030,137
मामले (दुनिया)
×

आंखों का ऑपरेशन करवाया फिर भी नहीं लौटी रोशनी

आंखों का ऑपरेशन करवाया फिर भी नहीं लौटी रोशनी

- Advertisement -

Eye Operation : फतेहपुर। नागरिक अस्पताल में आंखों का ऑपरेशन करवाने वाले धमेटा के बुजुर्ग दो माह तक आंखों की रोशनी के आने का इंतजार करते रहे। रोशनी तो नहीं लौटी पर जो थी वह भी चली गई। नागरिक अस्पताल फतेहपुर में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के सौजन्य से लगाए गए नेत्र जांच शिविर में ऑपरेशन के बाद ब्लॉक फतेहपुर की  सुनहारा पंचायत के टकवाल गांव की नीलमा देवी व कुटवासी पंचायत  के प्यार सिंह की गई आंखों की रोशनी की मामले पर जहां स्वास्थ्य विभाग दो माह बाद भी खाली हाथ है, वहीं इस योजना के तहत ऑपरेशन कराने के बाद आंखों की रोशनी जाने के मामले आए दिन सामने आ रहे हैं।

अब धमेटा के गांव भटेकी निवासी प्रकाश चंद उर्फ राकेश चंद की आंखों की रोशनी चली गई है। प्रकाश चंद ने बताया कि उसने भी फतेहपुर अस्पताल में लगे उसी कैंप में दाईं आंख का ऑपरेशन करवाया था, लेकिन आंख की रोशनी कम हो गई तब उन्होंने उसी टीम को अन्य जगह लगे शिविर में दिखाया तो उन्होंने कहा कि आप एक माह तक दवाई डालें, आपकी आंखों की रोशनी वापस आ जाएगी। 


Eye Operation : अब धमेटा के बुजुर्ग को महंगा पड़ गया कैंप में ऑपरेशन करवाना

मगर आज दो माह बीत जाने के बाद भी रोशनी आना तो दूर जो थी वह भी चली गई। गौर रहे मामले को उजागर होते देख कर स्वास्थ्य विभाग ने जांच टीम तो गठित कर दी थी। साथ में पीड़ित मरीजों का निशुल्क इलाज भी करवा रहा है। आज तक संबंधित प्राइवेट हॉस्पिटल पर विभाग ने कोई कार्रवाई नहीं की है। संबंधित अस्पताल आज भी बेरोकटोक प्रदेश के सरकारी अस्पतालों में ऑपरेशन कर रहा है। लोगों में चर्चा बनी हुई है कि कहीं विभाग इस मामले को भी दबाने में तो नहीं लगा हुआ है। यह साफ नजर आ रहा है कि विभाग अब कही किसी बड़ी घटना का इंतजार तो नहीं कर रहा है। स्थानीय लोगों व पंचायत प्रतिनिधियों ने इस मामले की उच्चस्तरीय जांच की मांग की है। पूर्व ब्लॉक समिति सदस्य खटियाड़ पोलियां, बीडीसी सदस्य खटियाड़ अरुणा चौधरी, स्थाना पंचायत प्रधान पवन कालिया, पूर्व पोलियां पंचायत प्रधान कुलविंदर सिंह, उपप्रधान सुनहारा पंचायत नसीब सिंह, उपप्रधान कुटबासी निक्का, पूर्व उपप्रधान धमेटा रविंद्र मेहरा, विशाल कुमार, पूजा देवी, राजेश कुमार,  इंद्र सिंह, इंदू वाला व प्रेमलता आदि कहना है कि इस मामले पर उच्चतरीय जांच होनी चाहिए।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी धर्माशाला जिला कांगड़ा डॉ. आरएस राणा का कहना है कि जांच जारी है। रिपोर्ट उच्च अधिकारियों को भेजी जा रही हैं। तीसरे व्यक्ति की आंख की रोशनी जाने की सूचना मिली है। पूर्व प्रत्याशी बीजेपी फतेहपुर बलदेव ठाकुर का कहना है कि सरकार को लोगों की कोई फिकर नहीं है। मंत्री सिर्फ अपनी सरकार को बचाने  लगे हुए हैं। बड़ी हैरानी की बात है कि स्थानीय विधायक एवं मंत्री ने इस मामले पर चुप्पी साध रखी है। अगर शीघ्र ही पीड़ित लोगों को इंसाफ नहीं दिया गया तो बीजेपी सरकार व विभाग के विरुद्ध सड़कों पर उतरेगी। स्वास्थ्य मंत्री कौल सिंह ठाकुर का कहना है कि  सरकार लोगों को बेहतर सेवाएं देने के लिए प्रयासरत है। अधिकारियों को जल्द ही रिपोर्ट सौंपने के आदेश दिए जाएंगे  व दोषियों के विरुद्ध कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

ये भी पढ़ें  : दूसरा मामलाः सिविल Hospital में करवाया Operation चली गई रोशनी

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है