- Advertisement -

मामूली विवाद के चलते 2 युवकों को मारी गोली, Fake Encounter करने वाला SI Arrest

मामले में चार अन्य पुलिसकर्मी भी सस्पेंड

0

- Advertisement -

नोएडा। राजधानी दिल्ली से सटे नोएडा में एक दारोगा के फेक एनकाउंटर का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि दारोगा ने मामूली विवाद के चलते दो युवकों को गोली मार दी और घटना को एनकाउंटर का रंग देने की कोशिश की। फिलहाल यूपी पुलिस ने दारोगा के खिलाफ केस दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है। यूपी पुलिस ने इस घटना के एनकाउंटर होने से इनकार किया है।

पुलिस के मुताबिक, यह शराब के नशे में दो लोगों के बीच उपजे विवाद का मामला है। जिस शख्स को गोली लगी है, वह जिम ट्रेनर है और उसका कोई क्रिमिनल रिकॉर्ड भी नहीं है। नोएडा पुलिस ने मामले में अपनी रिपोर्ट डीजीपी हेडक्वार्टर भेज दी है। इस मामले में 4 अन्य पुलिसकर्मियों को भी सस्पेंड कर दिया गया है। जानकारी के अनुसार शनिवार रात बहरामपुर से चार युवक स्कॉर्पियो में सवार होकर लौट रहे थे, तभी नोएडा के सेक्टर-122 में ठीक चौराहे पर पुलिस ने उनकी गाड़ी रोक ली। इसके बाद एसआई विजय दर्शन ने मामूली विवाद के चलते स्कॉर्पियो सवार जीतेंद्र यादव की गर्दन और सुनील के पैर में गोली मार दी। पैर में गोली लगने के बाद जीतेंद्र का साथी सुनील और स्कॉर्पियो में सवार बाकी लड़के घटनास्थल से भाग निकले। वहीं, एसआई ने पुलिस वालों के साथ मिलकर इसे एनकाउंटर का रूप देने की भी कोशिश की।

जीतेंद्र के परिजनों का यह भी आरोप है कि पुलिस स्कॉर्पियो सवार जीतेंद्र के दोस्तों को गवाही देने से मना कर रही है, साथ ही एनकाउंटर करने की धमकी दे रही है। उधर, इस घटना के बारे में डीआईजी लव कुमार का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है। अगर एसआई दोषी पाया गया, तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि यह कोई एनकाउंटर नहीं था। आरोपी एसआई की पहचान विक्टिम के भाई से थी शायद पीड़ित को भी आरोपी जानता था। चार पुलिस वालों को सस्पेंड कर दिया गया है और आरोपी एसआई की पिस्टल कब्जे में लेकर उसे भी जेल भेज दिया गया है।

- Advertisement -

Leave A Reply