Covid-19 Update

2,05,017
मामले (हिमाचल)
2,00,571
मरीज ठीक हुए
3,497
मौत
31,341,507
मामले (भारत)
194,260,305
मामले (दुनिया)
×

फर्जी Passport केसः छोटा राजन को सात साल की सजा

फर्जी Passport केसः छोटा राजन को सात साल की सजा

- Advertisement -

fake Passport: दिल्ली। कुख्यात अपराधी और अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा राजन को फर्जी पासपोर्ट मामले में दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने सात साल की सजा सुनाई है। इसके साथ छोटा राजन का साथ देने वाले तीन रिटायर्ड पासपोर्ट अधिकारियों को भी यह सजा दी गई है। विशेष अदालत के विशेष न्यायाधीश विरेन्द्र कुमार गोयल ने तीन रिटायर्ड अधिकारियों जयश्री दत्तात्रेय रहाते, दीपक नटवरलाल शाह और ललिता लक्ष्मणन को आपराधिक षड्यंत्र करके फर्जी पासपोर्ट बनाकर राजन की मदद करने का दोषी करार दिया था। इसके साथ ही इन सभी दोषियों पर कोर्ट ने 15000 रुपए का जुर्माना भी लगाया है। बता दें कि आरोपी छोटा राजन के खिलाफ तकरीबन 70 से अधिक मुकदमें दर्ज हैं, जिनमें से यह पहला मामला है जिस पर कोर्ट ने अपना फैसला सुनाया है।

जानकारी के मुताबिक छोटा राजन को अक्तुबर 2015 में इंडोनेशिया के बाली में गिरफ्तार किया गया था तथा नवंबर 2015 में उसे भारत को सौंप दिया गया। छोटा राजन पर फर्जी पासपोर्ट मामले में पटियाला हाउस कोर्ट ने आईपीसी की धारा 420, 468, 471, 120बी, प्रिवेंशन ऑफ करप्शन एक्ट के तहत आरोप तय किए हैं। सीबीआई ने अपनी पहली चार्जशीट फरवरी 2016 में कोर्ट में दाखिल की थी। इस चार्जशीट में छोटा राजन के साथ बंगलुरू के तीन रिटायर्ड अधिकारियों के नाम भी शामिल किए गए थे।


fake Passport: 2015 में बाली में गिरफ्तार कर भारत को सौंपा

सीबीआई ने इन चारों आरोपियों को धोखाधड़ी षडयंत्र रचने और प्रिवेंशन ऑफ करप्शन एक्ट के तहत चार्जशीट में आरोपी करार दिया था। सीबीआई ने बताया कि सितंबर 2013 में इन तीन अधिकारियों की मदद से फर्जी पासपोर्ट और टूरिस्ट वीजा पर छोटा राजन भारत से ऑस्ट्रेलिया  भाग गया था। उसके बाद वह 12 साल तक वहीं रहा और अक्टूबर 2015 में जब छोटा राजन ऑस्ट्रेलिया से इंडोनेशिया गया, तो इंटरपोल के रेड कार्नर नोटिस के जारी  होने के बाद उसे बाली में गिरफ्तार करके नवंबर 2015 में भारत को सौंप दिया गया। छोटा राजन इस समय दिल्ली की तिहाड़ जेल में बंद है और उसकी सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिए सुनवाई की जाती है।

रिमोट बम से उड़ाई मिनी बस, 10 की मौत

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है