Covid-19 Update

2,06,027
मामले (हिमाचल)
2,01,270
मरीज ठीक हुए
3,505
मौत
31,655,824
मामले (भारत)
198,557,259
मामले (दुनिया)
×

पहले तेज रफ्तारी ने ढाया कहर, अब पीजीआई में दाखिल लाडले के इलाज को नहीं पैसे

पहले तेज रफ्तारी ने ढाया कहर, अब पीजीआई में दाखिल लाडले के इलाज को नहीं पैसे

- Advertisement -

सुंदरनगर। बाइक चालक की तेज रफ्तारी और लापरवाही का शिकार 7 साल का सन्नी पीजीआई (PGI) में जिंदगी और मौत से जंग लड़ रहा है। प्रवासी परिवार पर एकाएक दुखों का ऐसा पहाड़ टूटा कि बेटी की शादी के लिए पाई पाई जोड़कर जमा किया पैसा लाडले के इलाज पर खर्च हो चुका है। अब इलाज के लिए भी पैसे नहीं बचे हैं। वहीं, प्रशासन ने भी 7 हजार रुपए की फौरी राहत देकर पल्ला झाड़ लिया है। अब परिवार को सरकार और दानी सज्जनों पर आस है। यदि कोई दानी सज्जन मदद करना चाहते हैं तो 78769-16303 पर संपर्क कर सकते हैं।

 


क्या है मामला

बता दें कि बीते 16 दिसंबर को सुंदरनगर के ललित चौक से एमएलएसएम कॉलेज (MLSM College) सड़क मार्ग पर बाइकर्स की अंधी दौड़ के दौरान एक बाइक सवार ने दो प्रवासी बच्चों को टक्कर मार दी थी। हादसे में दो सगे भाई सन्नी और समीर बुरी तरह से घायल हो गए थे। इस हादसे में 7 वर्षीय सन्नी की गंभीर हालत होने के कारण डॉक्टर ने उसे पीजीआई चंडीगढ़ (PGI Chandigarh) रेफर कर दिया था। जहां सन्नी कोमा में है और डॉक्टरों की देख-रेख में इलाज चल रहा है। दुर्घटना में अन्य बच्चा सिविल अस्पताल (Civil hospital) से उपचार के बाद घर भेज दिया गया है। मगर दूसरे बच्चे की चंडीगढ़ में हालत नाजुक बनी हुई है।

यह भी पढ़ें: कुल्लू बीजेपी ने CAA के समर्थन में निकाली रैली, विपक्ष के खिलाफ नारेबाजी

उधर, एसडीएम सुंदरनगर राहुल चौहान ने कहा कि पीड़ित परिवार को रेडक्रॉस के माध्यम से भी मदद की जाएगी। उन्होंने कहा कि फौरी राहत के तौर पर 7 हजार की मदद कर दी गई है। वहीं, मामले को लेकर एसएचओ सुंदरनगर कमल कांत का कहना है कि उक्त बाइक चालक के खिलाफ लापरवाही और तेज रफ्तारी से बाइक चलाने का मामला दर्ज कर कोर्ट में चालान पेश किया जा रहा है।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस Link पर Click करें… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है