Covid-19 Update

2,06,369
मामले (हिमाचल)
2,01,520
मरीज ठीक हुए
3,506
मौत
31,726,507
मामले (भारत)
199,611,794
मामले (दुनिया)
×

ठियोग के लॉज में हत्या मामले में परिजनों ने पुलिस कार्यप्रणाली पर उठाए सवाल

ठियोग के लॉज में हत्या मामले में परिजनों ने पुलिस कार्यप्रणाली पर उठाए सवाल

- Advertisement -

नेरवा। ठियोग की एक लॉज में एक व्यक्ति की हत्या मामले में मृतक के परिजनों ने ठियोग पुलिस पर कथित हत्यारों से मिलीभगत के गंभीर आरोप लगाए हैं। परिजनों का आरोप है कि मामला दर्ज होने के तीन दिन बीत जाने के बाद भी आरोपियों को हिरासत में न लेना पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवालिया निशान खड़ा कर रहा है। परिजनों व पंचायत वासियों ने सीएम जयराम ठाकुर से मांग की है कि एसआईटी का गठन कर मामले की उच्च स्तरीय जांच करवाई जाए। परिजनों ने चेतावनी दी है कि यदि पुलिस ने आरोपियों को हिरासत में न लिया व मामले की सही जांच नहीं की गई तो वह आंदोलन करने को मजबूर हो जाएंगे। वह ठियोग थाने के बाहर धरना देंगे।


क्या था मामला

बता दें कि बीते शुक्रवार को नेरवा तहसील की ग्राम पंचायत थमाड़ा निवासी बलवीर सिंह पुत्र धन सिंह शुक्रवार को नवोदय विद्यालय में शिक्षा ग्रहण कर रही अपनी बेटी से मिलने शिमला गया था व वापसी में रात को ठियोग में एक लॉज में रुक गया। आधी रात को वह संदिग्ध परिस्थियों में घायल हो गया। शनिवार को उसकी आईजीएमसी शिमला मौत हो गई। मृतक के भाई अनिल ने आरोप लगाया है कि जब उनकी बहन आईजीएमसी पहुंची तो वहां पर मौजूद पुलिस कर्मी, लॉज का मालिक व उसका कर्मचारी गायब हो गए।


यह भी पढ़ें: शिमला ब्रेकिंगः खाई में गिरी जिप्सी, पति और पत्नी सहित तीन की मौत-एक घायल

 

बलवीर इशारे से कुछ कहना चाह रहा था, परंतु पुलिस ने उसके ब्यान तक दर्ज करने की जहमत नहीं उठाई। अनिल व परिजनों का आरोप है कि जब यहां से लोग लॉज पहुंचे, तो लॉज के कर्मचारी ने बताया कि बलवीर गेस्ट हाउस की सीढ़ियों से गिरा है, जबकि उसके मालिक का कहना था कि उसने छत से छलांग लगाईं है। इसके बाद मालिक व पुलिस के सामने कर्मचारी ने अपना ब्यान बदल दिया। वहीं डीएसपी ठियोग कुलविंदर सिंह ने बताया कि ठियोग थाने में आईपीसी की धारा 302 के तहत मामला दर्ज किया गया है एवं घटनास्थल पर फोरेंसिक टीम द्वारा साक्ष्य जुटाए जा रहे हैं। अभी तक पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट नहीं आई है, रिपोर्ट आने के बाद आगामी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस Link पर Click करें… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है