Expand

वाडा का डाटाबेस हैक, अमरीकी एथलीटों को मिला था डोपिंग का लाइसेंस

वाडा का डाटाबेस हैक, अमरीकी एथलीटों को मिला था डोपिंग का लाइसेंस

- Advertisement -

दर्जनों अमेरिकी एथलीट प्रतिबंधित पदार्थ के पॉजिटिव
रूस के एक हैकिंग ग्रुप ने आरोप लगाया है कि विश्व डोपिंग रोधी एजेंसी (वाडा) ने अमेरिकी टेनिस स्टार सेरेना और वीनस विलियम्स और रियो ओलंपिक की गोल्ड मेडलिस्ट जिमनास्ट सिमोन बाइल्स को प्रतिबंधित पदार्थ लेने की अनुमति दे दी थी। उनका कहना है कि उन्होंने वाडा का डाटाबेस हैक किया है जिसमें उन्हें इसकी जानकारी मिली है। यानि कि रियो ओलम्पिक खेलों में भारत को दो और मेडल मिल सकते हैं। जिम्नास्ट दीपा करमाकर और टेनिस मिक्स्ड डबल्स में रोहन बोपन्ना और सानिया मिर्जा को। हालांकि मामला बहुत पेचीदा है लेकिन अगर रूस के एक हैकिंग ग्रुप के दावे सच साबित होते हैं तो हो सकता है कि भारत की झोली में दो पदक और आ जाएं।

रियो ओलम्पिक पदकधारी नियमित रूप से करते थे अवैध दवाओं का इस्तेमाल
फैंसी बीयर्स की हैकिंग टीम ने दावा किया है कि उन्होंने इंटरनेट पर कथित रूप से अमेरिकी एथलीटों से संबंधित दर्जनों फाइलें लीक की हैं। फैंसी बीयर्स के ग्रुप ने अपनी वेबसाइट पर दावा किया, वाडा के हैक किए गए डाटाबेस की छानबीन के बाद हमें पता चला कि दर्जनों अमेरिकी एथलीट प्रतिबंधित पदार्थ के पॉजिटिव पाए गए थे। इसके मुताबिक, रियो ओलम्पिक पदकधारी नियमित रूप से अवैध दवाएं इस्तेमाल करती थीं जिन्हें चिकित्सा के उपयोग का मंजूरी का प्रमाण पत्र मिला हुआ था। इसके मुताबिक, दूसरे शब्दों में उन्हें डोपिंग का लाइसेंस मिल गया था।

WIMBLEDON, ENGLAND - JULY 02:  Venus Williams of USA celebrates victory during the women's singles semi final match against Dinara Safina of Russia on Day Ten of the Wimbledon Lawn Tennis Championships at the All England Lawn Tennis and Croquet Club on July 2, 2009 in London, England.  (Photo by Hamish Blair/Getty Images)

वीनस विलियम्स पर भी डोपिंग का आरोप
जिम्नास्ट सिमोन ने जिस स्पर्धा में गोल्ड मेडल जीता था, उसमें चौथे नंबर पर दीपा करमाकर थीं। अब अगर इन दावों को सच मानकर इसकी जांच कराई जाए, और ऐसे में अगर सिमोन दोषी पाई गईं तो उनका गोल्ड मेडल भी छिन सकता है। ऐसे में सिल्वर मेडलिस्ट को उनका गोल्ड, ब्रॉन्ज मेडलिस्ट को सिल्वर मेडल और चौथे नंबर की दीपा को ब्रॉन्ज मेडल मिल सकता है। ठीक वैसे हैकिंग ग्रुप ने वीनस विलियम्स पर भी डोपिंग का आरोप  लगाया है। वीनस विलियम्स और राजीव राम की जोड़ी ने सिल्वर मेडल जीता था। इस जोड़ी ने सेमीफाइनल मैच में सानिया मिर्जा-रोहन बोपन्ना की भारतीय जोड़ी को हराया था। तो अब अगर यह दावे सही साबित होते हैं और इनकी जांच होती है तो भारत के खाते में दो मेडल और जुड़ सकते हैं।

डेटाबेस हैकिंग में शामिल होने से रूस का इनकार
हालांकि रूस ने वाडा के डेटाबेस में हाल ही में हुए हैकिंग में किसी भी तरह से शामिल होने से इनकार किया है। क्रेमलिन के प्रवक्ता दिमित्री पेस्कोल ने बताया, ‘यह निश्चित तौर पर कहा जा सकता है कि इस मामले में रूस, यहां की सरकार और कोई भी रूसी सेवा शामिल नहीं है।’ हैकर समूह फैंसी बीयर्स ने मंगलवार को वाडा का डाटाबेस हैक करने का दावा करते हुए कहा था कि ‘कई अमेरिकी एथलीटों के परिणाम पॉजीटिव आए’ और रियो ओलंपिक पदक विजेताओं को ‘डोपिंग का लाइसेंस प्राप्त था।‘ इसके बाद वाडा ने एक ऑनलाइन बयान में साइबर हमले की पुष्टि करते हुए कहा कि इस हैकिंग के पीछे रूसी साइबर जासूसी समूह का हाथ है और इसे ‘गैरकानूनी’ तरीके से अंजाम दिया गया।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है