Covid-19 Update

57,121
मामले (हिमाचल)
55,591
मरीज ठीक हुए
958
मौत
10,623,920
मामले (भारत)
97,568,114
मामले (दुनिया)

#Farmer’s_protest: सिंघु और टिकरी बॉर्डर पर डाला डेरा, मुरैना में कृषि उपज मंडी में फायरिंग

सिंघु बॉर्डर पर विरोध प्रदर्शन कर रहे किसानों ने गुरु पर्व पर गुरबानी का पाठ किया

#Farmer’s_protest: सिंघु और टिकरी बॉर्डर पर डाला डेरा, मुरैना में कृषि उपज मंडी में फायरिंग

- Advertisement -

नई दिल्ली। नए कृषि कानूनों( Agricultural laws) के खिलाफ दिल्ली की सीमाओं पर हजारों की संख्या में किसान( Farmer) जमे हुए हैं। सीमा पर आज किसान आंदोलन का 5वां दिन है। किसान लंबे समय तक जमे रहने के लिए तैयार होकर आए है। कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों को दिल्ली के बुराड़ी में मौजूद निरंकारी ग्राउंड में प्रदर्शन करने की इजाजत दी गई है. लेकिन किसानों का एक गुट सिंघु और टिकरी बॉर्डर पर ही डेरा डाले हुए है। किसान संगठनों ने केंद्र सरकार के बुराड़ी मैदान में जाने के बाद बातचीत शुरू करने के प्रस्ताव को ठुकरा दिया है। वहीं सरकार की तरफ से भी मामले को सुलझाने के प्रयास तेज कर दिए हैं। किसानों ने गृहमंत्री अमित शाह( Home Minister Amit Shah) की सशर्त बात करने की पेशकश भी ठुकरा दी है, जिसके बाद शाह ने बीजेपी के अध्यक्ष जेपी नड्डा( BJP President JP Nadda) के साथ रविवार देर रात बैठक की है। इसी बीच मध्य प्रदेश के मुरैना में फायरिंग से हड़कंप मच गया. बताया जा रहा है कि बाहुबलियों ने कृषि उपज मंडी में कई राउंड फायरिंग की। इस दौरान एक किसान घायल हो गया। इस पूरी घटना का वीडियो भी वायरल हो रहा है। मौके पर पहुंची पुलिस ने मामले की तफ्तीश शुरू कर दी है। उधर कृषि कानूनों के खिलाफ सिंघु बॉर्डर पर विरोध प्रदर्शन कर रहे किसानों ने गुरु पर्व पर गुरबानी का पाठ किया।

यह भी पढ़ें :- #Farmer’s_Protest Live : किसानों को #Delhi आने की इजाजत मिली, सिंधु बॉर्डर से साथ चलेगी पुलिस

 

किसान की दिल का दौरा पड़ने से मौत

किसानों के आंदोलन में शामिल एक और किसान की मौत हो गई. किसान आंदोलन (Farmers Agitation) हिस्सा लेने जा रहे किसान गज्जर सिंह रविवार देर रात दिल का दौरा पड़ने से मौत (Death) हो गई। बहादुरगढ बाईपास पर न्यू बस स्टैंड के पास उनकी मौत हुई। मृतक गज्जन सिंह लुधियाना समराला के खटरा भगवानपुरा गांव के रहने वाले थे। मृतक की उम्र करीबन 50 साल थी और वो किसान आंदोलन में शामिल थे। किसान के शव को नागरिक अस्पताल में रखवाया गया है। गाज़ीपुर-गाजियाबाद (दिल्ली-यूपी) सीमा पर सुरक्षा कड़ी कर दी गई है और बैरिकेडिंग की जा रही है। यहां किसान नए कृषि कानूनों के विरोध में एकत्र हुए हैं। दरअसल, गाजीपुर बॉर्डर पर आए किसान बार-बार बेरिगेडिंग हटाने की कोशिश करने लगे। इतना ही नहीं कई बार बेरिगेड को सड़कों पर गिरा दिया। जिसके चलते पुलिस प्रशासन भी सख्त हो गया है।दिल्ली पुलिस ने कहा है कि ट्रैफिक की आवाजाही के लिए सिंघु और टिकरी बॉर्डर बंद है। यहां किसानों ने अपना डेरा डाल रखा है। वहीं दिल्ली की सीमाओं पर प्रदर्शन कर रहे किसान संगठनों के नेताओं ने दिल्ली में एंट्री के सभी नाकों को बंद करने की चेतावनी दी है।

फलों और सब्जियों की आपूर्ति बाधित

दिल्ली की सीमाओं पर किसानों के धरना-प्रदर्शन के चलते फलों और सब्जियों की आपूर्ति बाधित होने से इनकी कीमत बढ़ गई है। खासतौर से आलू और सेब के दाम बढ़ गए हैं। दिल्ली में सेब का खुदरा भाव 120 रुपये प्रति किलो से ऊपर हो गया है, जबकि दो दिन पहले सेब 80 से 100 रुपये किलो बिक रहा था> इसी प्रकार आलू का भाव अब 40 रुपये प्रति किलो पर आ गया है, पहले 50 रुपये किलो आलू बिक रहा था।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है