Covid-19 Update

58,777
मामले (हिमाचल)
57,347
मरीज ठीक हुए
983
मौत
11,122,986
मामले (भारत)
114,822,832
मामले (दुनिया)

#Farmers की ऱोष रैलीः ट्रैक्टरों, कारों और बाइकों पर सवार होकर दुलैहड़ से पहुंच गए ऊना

लाल किला घटनाक्रम को बताया सरकार सुनुयोजित षड्यंत्र

#Farmers की ऱोष रैलीः ट्रैक्टरों, कारों और बाइकों पर सवार होकर दुलैहड़ से पहुंच गए ऊना

- Advertisement -

ऊना। केंद्र सरकार द्वारा पारित कृषि कानूनों ( Agricultural laws)को लेकर दिल्ली में जारी आंदोलन के समर्थन में आज ऊना(Una) में किसानों ने रोष रैली निकाली। इस दौरान सैंकड़ों किसानों ने ट्रैक्टरों, कारों और बाइकों पर सवार होकर हरोली उपमंडल के दुलैहड़ से लेकर जिला मुख्यालय तक रैली निकाली। रैली के दौरान जहां किसानों और मजदूरों के पक्ष में नारे लगाए, वहीं केंद्र सरकार के विरुद्ध भी जमकर नारेबाजी की। रैली के दौरान किसानों ने केंद्र सरकार से कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग उठाई वहीं मांगे ना माने जाने तक आंदोलन जारी रहने की चेतावनी भी दी।

यह भी पढ़ें: #Tractorrally : गणतंत्र दिवस पर Paonta में किसानों ने निकाली ट्रैक्टर रैली, दिया ये संदेश

 

जाहिर है कृषि बिल को लेकर किसानों का रोष लगातार बढ़ता ही जा रहा है। एक ओर जहां किसानों ने दिल्ली में गणतंत्र दिवस पर खासा उत्पात मचाया वहीं आज जिला ऊना में भी किसानों ने हरोली उपमंडल के दुलैहड़ से ट्रैक्टर रैली निकाली। यह रैली दुलैहड़ से शुरू हुई, और टाहलीवाल, संतोषगढ़, मैहतपुर से होती हुई जिला मुख्यालय पर पहुंची। इस रोष रैली में काफी संख्या में ट्रैक्टरों ने हिस्सा लिया। ट्रैक्टर के अलावा रैली में कार और दोपहिया वाहन भी शामिल रहे। रैली के दौरान किसानों ने अपनी मांगों को लेकर आवाज बुलंद की और वहीं केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। रोष रैली में शामिल संतोषगढ़ नगर के पूर्व पार्षद रविकांत बस्सी ने कहा कि जब तक कृषि कानून बिल वापिस नहीं लिए जाते, तब तक किसानों का रोष प्रदर्शन जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि किसान पिछले दो माह से शांतिपूर्ण ढंग से प्रदर्शन कर रहे है, लेकिन केंद्र सरकार किसानों की मांगों की अनदेखी कर रही है। बस्सी ने कहा कि दिल्ली के लालकिला में गणतंत्र दिवस के दिन जो घटनाक्रम हुआ, वो केंद्र सरकार द्वारा सुनोजित था। उन्होंने कहा कि इसमें किसान संगठनों का कोई हाथ नहीं है। सिर्फ केंद्र सरकार किसानों को बदनाम करने के लिए ऐसे हथकंडे अपना रही है।

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी Youtube Channel  

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है