Covid-19 Update

1,61,072
मामले (हिमाचल)
1,24,434
मरीज ठीक हुए
2348
मौत
24,965,463
मामले (भारत)
163,750,604
मामले (दुनिया)
×

#FarmersProtest : मांगों पर अड़े किसान, सरकार का लिखित प्रस्ताव ठुकराया, President से मिले विपक्षी नेता

किसानों ने दी 12 दिसंबर को जयपुर-दिल्ली हाईवे जाम करने की चेतावनी

#FarmersProtest : मांगों पर अड़े किसान, सरकार का लिखित प्रस्ताव ठुकराया, President से मिले विपक्षी नेता

- Advertisement -

नई दिल्ली। कृषि कानून को वापस लेने की मांग पर अड़े किसानों ने आज सरकार का लिखित प्रस्ताव ( Written Proposal) भी ठुकरा दिया है। सरकार ने MSP, मंडी सिस्टम पर अपनी ओर से कुछ संशोधन सुझाए थे लेकिन किसान इससे सहमत नहीं हैं। इसी बीच कृषि कानूनों को लेकर पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी सहित विपक्षी नेता राष्ट्रपति भवन में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मिलने पहुंचे।


 


 

किसान नेताओं ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए कहा कि पूरे देश में हम आंदोलन को और तेज करेंगे। कृषि कानूनों (Agricultural laws) में संशोधनों को लेकर मोदी सरकार (Modi Goverment) के प्रस्ताव आंदोलनरत किसानों (Farmers) को मंजूर नहीं हैं। किसानों ने आज प्रेस कॉन्फ़्रेंस में कहा कि हमें जो प्रस्ताव मिला है उसे हम पूरी तरह से रद्द करते हैं। हम जियो (Jio) के सारे मॉल्स का बहिष्कार करेंगे। किसानों ने कहा कि 12 दिसंबर को जयपुर-दिल्ली हाईवे को रोकेंगे। वहीं 12 दिसंबर को पूरे देश के टोल प्लाज़ा जाम कर देंगे। किसानों ने 14 दिसंबर को पूरे देश में विरोध प्रदर्शन की भी चेतावनी दी। इसी दिन दिल्ली-जयपुर हाईवे को बंद करेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि हाईवे इससे पहले भी बंद किया जा सकता है।

 

 

ये हैं केंद्र सरकार के प्रस्ताव –

  • राज्य सरकार प्राइवेट मंडियों पर भी शुल्क/फीस लगा सकती है।
  • राज्य सरकार चाहे तो मंडी व्यापारियों का रजिस्ट्रेशन अनिवार्य कर सकती है।
  • किसानों को कोर्ट कचहरी जाने का विकल्प भी दिया जाएगा।
  • किसान और कंपनी के बीच कॉन्ट्रैक्ट की 30 दिन के अंदर रजिस्ट्री होगी।
  • कॉन्ट्रैक्ट कानून में स्पष्ट कर देंगे कि किसान की जमीन या बिल्डिंग पर ऋण या गिरवी नहीं रख सकते।
  • किसान की ज़मीन की कुर्की नहीं हो सकेगी।
  • एमएसपी की वर्तमान खरीदी व्यवस्था के संबंध में सरकार लिखित आश्वासन देगी।
  • बिजली बिल अभी ड्राफ्ट है, इसे नहीं लाया जाएगा।
  • एनसीआर में प्रदूषण वाले कानून पर किसानों की आपत्तियों का समुचित समाधान किया जाएगा।

 

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है