- Advertisement -

खूब खाएं डेयरी प्रोडक्ट्स नहीं होगा दिल की बीमारी का खतरा

विशुद्ध दूध से बने डेयरी उत्पाद हृदय रोग के खतरे को नहीं बढ़ाते

0

- Advertisement -

कहा जाता है कि भोजन में अगर अधिक वसा यानी फैट हो तो कई तरह की बीमारियां हो जाती है। लोग उन सब चीजों को प्राथमिकता देते हैं जो लो फैट वाली यानी कम वसा वाली होती हैं। नतीजतन लोगों ने धीरे-धीरे लो फैट की चीजें खानी शुरू कर दीं। पर इससे क्या स्वास्थ्य सही हो गया ? शायद नहीं, इस चक्कर में वो फैट भी लेना छोड़ दिया गया जो शरीर के लिए जरूरी था। शायद बहुत कम लोगों को पता है कि फैट शरीर को नुकसान नहीं पहुंचाता है बल्कि इसके फायदे भी होते हैं और जरूरत भी। समय-समय पर वैज्ञानिकों को शोध से इसके बारे में कई तरह की बेहतर जानकारी सामने आती हैं।

अध्ययन के अनुसार दुग्ध उत्पादों के सेवन से दिल की बीमारी या हार्ट अटैक का कोई खतरा नहीं होता और न ही इनका असमय मौत से कोई संबंध है। एक अध्ययन के द्वारा यह जानने की कोशिश की गई कि शरीर पर वसा का क्या अच्छा असर पड़ता है और क्या बुरा। इसके मुताबिक हमें सारे ही डेयरी उत्पाद नुकसान नहीं करते और इनसे दिल की बीमारी का खतरा भी नहीं होता बल्कि इनमें बहुत सारे पोषक तत्व भी होते हैं जो शरीर के लिए आवश्यक हैं । यहां तक कि इनसे बुजुर्गों को भी कोई खतरा नहीं होता तथा इसमें मौजूद फैटी एसिड हृदय रोग के खतरे को कम करता है। तो यह साफ हो गया कि विशुद्ध दूध से बने डेयरी उत्पाद हृदय रोग के खतरे को नहीं बढ़ाते । इसलिए इन्हें बेहिचक अपने आहार में शामिल किया जा सकता है।

वास्तव में जो फैट आपको नुकसान करते हैं वे तले हुए भोजन और जंक फूड में होते हैं । ये आपके शरीर में ट्रांस फैट पहुंचाते हैं जो नुकसानदेह होता है। जब आप ऐसा कुछ खाते हैं जिसमें ट्रांसफैट ज्यादा होता है तो यह एलडीएल कोलेस्ट्रोल बढ़ाता है इससे टाइप-2 डायबिटीज का खतरा होता है। अच्छा फैट वनस्पति तेलों ,नट्स और सीड्स तथा मछली से मिलता है। अच्छा घी और एवोकाडो वजन कम करने में भी सहायक हो सकता है। इससे आप ज्यादा खाना खाने से भी बच सकते हैं।

- Advertisement -

Leave A Reply