Covid-19 Update

58,457
मामले (हिमाचल)
57,233
मरीज ठीक हुए
982
मौत
11,046,432
मामले (भारत)
113,097,102
मामले (दुनिया)

ये क्या! 68 रुपए सरसों Oil packet के वसूले जा रहे 82 रुपए

ये क्या! 68 रुपए सरसों Oil packet के वसूले जा रहे 82 रुपए

- Advertisement -

Fatehpur Depot: एसडीए ने दिए जांच के आदेश

Fatehpur Depot : फतेहपुर।  सरकार चाहे कितनी भी कोशिश कर ले, लेकिन डिपो होल्डर उपभोक्ताओं को चूना लगाने में पीछे नहीं हट रहे हैं। ऐसा ही एक मामला फतेहपुर क्षेत्र में सामने आया है। पहले भी चर्चा में रही एक सहकारी सभा के डिपो होल्डर द्वारा सरकार के निर्धारित मूल्य से ज्यादा दाम उपभोक्ताओं से वसूले जा रहे हैं। इस बात का खुलासा तब हुआ जब एक व्यक्ति ने डिपो से सामान खरीदा और सेल्समेन द्वारा काटे गए कैश मेमो में तेल की मूल्य 82 रुपए लगा पाया।

डिपो होल्डर बोला गलती से लगा पुराना रेट

हालांकि सरसों तेल के पैकेट पर मूल्य 68 रुपए दर्शाया गया है, लेकिन उपभोक्ता से डिपो होल्डर ने 82 रुपए के हिसाब से पैसे लिए गए। हालांकि डिपो होल्डर की माने तो यह गलती से हो गया है, क्योंकि पहले इसी पैकेट का मूल्य 82 रुपए था। प्राप्त जानकारी के अनुसार जर्म सिंह कार्ड न 510 निवासी सुनेट का बेटा कुलबिन्द्र सिंह जैसे ही डिपो से समान लेकर घर पहुंचा तो सेल्समैन काट गया कैश मैमो को चैक किया तो सरसों के तेल के पैकेट पर मूल्य 68 दर्शाया गया है, मगर बिल पर 82 हिसाब से वसूल किए जा रहे।

जब उसने यह वात डिपो सेल्समेन को बताई तो उसका तर्क था की यह गलती से हुआ है और उसके पैसे वापस कर दिए। मामला सामने आने के बाद एसडीएम फतेहपुर शशीपाल ने इस पर कारवाई के आदेश दिए हैं। इस बारे में एसडीएम फतेहपुर शशीपाल शर्मा से बात की गई तो उन्होंने बताया कि यह मामला ध्यान में आया है, जिस पर डिपो होल्डर से  जवाब मांगा जा रहा है।

खाद्य आपूर्ति विभाग के इंस्पेक्टर सुरेंद्र राठौर ने कहा कि ये मामला सामने आया है। पहले इस पैकेट का मूल्य 82 रुपए हुआ करता था, लेकिन अब इस पैकेट का मूल्य 68 रुपए हो गया है।

पैकेट के दाम ज्यादा क्यों वसूले गए हैं, इस पर कार्रवाई की जाएगी। अगर डिपो सेल्समेन दोषी पाया जाता है तो  कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। वहीं खाद्य एवं पूर्ति विभाग के मुखिया एवं प्रदेश सरकार के खाद्य आपूर्ति व उपभोक्ता मामले मंत्री जीएस बाली का कहना है कि सरकार गरीबों के राशन पर डाका डालने वालों पर नकेल कसने के लिए विभाग नियमों को और भी सख्त बना रहा है। अब जो डिपो होल्डर इस तरह कार्यों को अंजाम दे रहा है, उसे किसी भी हालत में बक्शा नहीं जाएगा। विभाग से  इस पर कार्रवाई करते हुए रिपोर्ट मांगी जाएगी। वहीं, डिपो सेल्समेन का कहना है कि गलती से पिछला मूल्य लग गया है। क्योंकि पहले पैकेट का मूल्य 82 हुआ करता था।

Minister पर आरोपः सरकारी Employees से करवा रहे निजी काम

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है