×

बेटे का लेटर खोलने के जुर्म में पिता को हुई दो साल की जेल

बेटे का लेटर खोलने के जुर्म में पिता को हुई दो साल की जेल

- Advertisement -

नई दिल्ली। दुनियाभर से रोजाना ही तरफ-तरह के अजीबोगरीब मामले सामने आते रहते हैं। ताजा मामला स्पेन (Spain) का है। जहां पर अपने 10 साल के बेटे को संबोधित (Addressed) एक पत्र खोलने और उसे लड़के की मां के खिलाफ मुकदमे में सबूत के रूप में उपयोग करने के आरोप में एक स्पेनिश व्यक्ति को दो साल जेल की सजा दी गई है। सुनवाई के दौरान अभियोजन पक्ष (Prosecutors) ने आरोप लगाया कि पिता ने अपने बच्चे की निजता का उल्लंघन किया है।


यह भी पढ़ें:-ये है दुनिया की सबसे छोटी बच्ची, जन्म के समय था सेब के बराबर वजन

बताया गया कि उसने बेटे के नाम लिखे गए खत को खोला, जिसे करने के लिए वह अधिकृत नहीं था। यह पत्र लड़के की मौसी ने भेजा था और इसमें उसे बताया गया था कि कैसे उसे 2012 के घरेलू दुर्व्यवहार (Domestic misbehavior) मामले में अपने पिता द्वारा अपनी ही पत्नी यानी लड़के की मां के पक्ष में गवाही देना चाहिए। बच्चे की लिखे गए खत में मौसी ने कथित तौर पर उसके पिता का अपमान किया था। पिता ने अदालत (Court) में इस खत के जरिये यह साबित करने की कोशिश की थी कि उसकी पत्नी के परिवार ने उसके खिलाफ गवाही देने के लिए उसके बेटे के साथ जबरदस्ती (forcefully) की थी। उस मामले में लड़के के पिता को बरी कर दिया गया था। मगर, बेटे के नाम लिखे गए खत को खोलने के जुर्म में उसे दो साल की सजा और आर्थिक जुर्माना लगाया गया है। लड़के की मां ने अपने पूर्व पति के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें ….

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है