Covid-19 Update

59,148
मामले (हिमाचल)
57,580
मरीज ठीक हुए
987
मौत
11,229,271
मामले (भारत)
117,446,648
मामले (दुनिया)

बाप-बेटे ने खुद रची अपने अपहरण की साजिश, गिरफ्तार

बाप-बेटे ने खुद रची अपने अपहरण की साजिश, गिरफ्तार

- Advertisement -

  • 26 जनवरी को पुलिस में दर्ज करवाया था मामला
  • 17 करोड़ रुपये के लेन-देन के चलते रचा ड्रामा

सोलन। फाइनॉस कंपनी चलाने वाले बाप-बेटे ने खुद के अपहरण की साजिश रचकर पुलिस और देनदारों की आंखों में धूल झौंकने का षड्यंत्र रचकर अदालत को भी गुमराह करने का प्रयास किया। लेकिन, पुलिस ने पहले 3 आरोपियों को हिरासत में लेकर पर्दाफाश किया और दोनों बाप-बेटे को भी सलाखों के पीछे डाल दिया है। सोलन में 26 जनवरी को अमित अग्रवाल ने पुलिस में रिपोर्ट दर्ज करवाई कि उसे और उसके पिता चंद्रपाल अग्रवाल को कुछ अज्ञात नकाबपोश लोगों ने बंदूक की नोक पर अगवा कर लिया।

उसके बाद उनके फाइनॉस कार्यालय ले जाकर कुछ दस्तावेज उठाकर ले गए और उन्हें शहर से दूर जाकर छोड़ दिया। अमित ने ये भी बताया कि अगवा करने वालों ने उन पर गोली चलाई जो उनकी कार में जाकर लगी। ना केवल इतना बल्कि उन्होंने प्रदेश उच्च न्यायालय में इस मामले का हवाला देकर सुरक्षा भी ले रखी थी। इनकी शिकायत के आधार पर सोलन पुलिस ने हरियाणा के जींद से 3 आरोपियों को गिरफ्तार किया और उनसे पूछताछ करने पर सारा मामला साफ हो गया।

पुलिस अधीक्षक अंजुम आरा ने कहा कि ये मामला करीब 17 करोड़ रुपये के लेन-देन का था जिसकी वजह से बाप-बेटे ने खुद के अपहरण की साजिश रचकर एक अन्य व्यक्ति को फंसाने का प्रयास किया था, उस व्यक्ति द्वारा कर्ज का पूरा पैसा वापस करने के बाद भी इन शातिरों ने उसके ब्लैक चेक अपने पास रखे हुए थे, जिसके बल पर ये उसे धमकाते रहते थे। अंजुम आरा ने कहा कि पुलिस ने इन दोनों को उस समय हिरासत में लिया जब दोनों अग्रिम जमानत करवाने अदालत जा रहे थे।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है