Covid-19 Update

2,05,874
मामले (हिमाचल)
2,01,199
मरीज ठीक हुए
3,504
मौत
31,612,794
मामले (भारत)
198,030,137
मामले (दुनिया)
×

Feng Shui Tips : इन्हे भी आजमाएं

Feng Shui Tips : इन्हे भी आजमाएं

- Advertisement -

चीनी वास्तुशास्त्र यानी फेंगशुई पैसा कमाने और धन-समृद्धि बढ़ाने के लिए बहुत ही कारगर साबित हो रहा है। आजकल लोग इसे खूब आजमा रहे हैं। हम आपके लिए लाएं कई ऐसे फेंगशुई टिप्स जो आपकी किस्मत बदल देंगे …

सफलता के लिए- फिनिक्स एक लाल रंग का पक्षी है। चीनी कथाओं के अनुसार जोकि अमर होता है। यह इच्छा पूरी होने वाले भाग्य का प्रतीक है। फिनिक्स प्रसिद्धि, व्यापार तथा नौकरी के अच्छे अवसरों के लिए सौभाग्य का प्रतीक होता है। इसे दक्षिण दिशा में रखते हैं।
ड्रेगन के सिर वाला कछुआ- ड्रेगन के सिर वाला कछुआ लम्बी आयु तथा सौभाग्य का प्रतीक माना जाता है। दोनों के मिलने से सम्पत्ति सौभाग्य प्राप्त होता है। ड्रेगन के सिर वाला कछुआ सिक्कों पर बैठा होता है। इसकी पीठ पर बैठा बच्चा वंश को पीढ़ी दर पीढ़ी आगे बढ़ाने का संकेत करता है। यह हमारी बीमारियों तथा शत्रुओं से रक्षा करता है। इसे शयन-कक्ष में नहीं रखना चाहिए।
विवाह के लिए- अपने शयन-कक्ष में ग्रोउन बत्तखों का जोड़ा या क्रिस्टल बाल का जोड़ा रखें। इसे रोमांस के परिन्दे भी कहते हैं। इसे पति-पत्नी भी शयन-कक्ष में रख सकते हैं।
पानी का जहाज- समुद्री जहाज किसी व्यक्ति के कार्य में महान उपलब्धि और सफलता का प्रतीक है। इसे घर या आफिस में रख सकते हैं या इसका चित्र टांग सकते हैं। लेकिन इस बात का ध्यान रहे, कि जहाज घर या आफिस की तरफ आ रहा हो। इस तरह का जहाज तरक्की तथा समृद्धि का प्रतीक है। ध्यान रहे कभी भी टाइटेनिक जहाज के चित्र न लगायें।
ड्रेगन के मुंह वाली किश्ती- ड्रेगन के मुंह वाली किश्ती, सौभाग्य तथा सम्पत्ति को घर के अन्दर आने का प्रतीक है। इसे बैठक कक्ष में रखना चाहिए। यह ध्यान रखें कि इसका मुंह अन्दर की ओर होना चाहिए।
क्रिस्टल या रत्नों का पौधा- क्रिस्टल या रत्नों का पौधा यांग उर्जा को प्रभावित करता है। विवाह के लिए विवाह-क्षेत्र, व्यापार के लिए व्यापार-क्षेत्र, शिक्षा के लिए शिक्षा-क्षेत्र में इसका प्रयोग से लाभ होता है। इसे किसी भी क्षेत्र में रख सकते हैं।
कन्याओं के विवाह के लिए- चीन में पूर्णिमा के चांद को विवाह का देवता का प्रतीक माना जाता है। अपने भारत में भी औरतें करवा-चौथ के दिन चांद को देखकर की अपना व्रत खोलती हैं। पूर्णिमा के चांद और चांदनी का चित्र कन्याओं के शयनकक्ष के दक्षिण पश्चिम कोने में लगाने से कन्याओं को मनपंसद योग्य वर मिलता है।
इच्छा पूरी करने वाला कछुआ – आपके मन में कोई इच्छा होती है या पूरी न हो रही हो तो सफेद कागज लेकर उसके ऊपर लाल पैन से लिखकर अन्दर रख दें और उसका मुंह दक्षिण की तरफ करते हैं। तो इच्छा 40 से 60 दिन में पूरी हो जाती है।


ज्ञान का द्योतक गुरु रत्न पुखराज

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है