Covid-19 Update

2,05,061
मामले (हिमाचल)
2,00,704
मरीज ठीक हुए
3,498
मौत
31,440,951
मामले (भारत)
195,407,759
मामले (दुनिया)
×

बज्रेश्वरी मंदिर में चुनरी को लेकर भिड़ गए पुजारी

बज्रेश्वरी मंदिर में चुनरी को लेकर भिड़ गए पुजारी

- Advertisement -

कांगड़ा। उत्तर भारत के प्रसिद्ध शक्तिपीठ माता श्री बज्रेश्वरी देवी मंदिर में माता के गर्भ गृह में मंदिर कर्मचारी और बारीदार पुजारी के बीच जमकर झगड़ा और गाली गलोज हुई। यही नहीं हजारो श्रद्धालुओं के सामने ही दोनों पुजारी आपस में मारपीट करने लग गए। वहीं, मामले में सख्त कार्रवाई करने के बजाए मंदिर प्रशासन ने मामले को रफा दफा करने की कोशिश की और गाली गलोज करने वाले दोनों पक्षों में राजीनामा करवा दिया। मामले की भनक मंदिर के सहायक आयुक्त शशि पाल नेगी को भी नहीं लगने दी।

मंदिर के सरकारी पुजारी ने मंदिर अधिकारी से शिकायत में बताया कि बारीदार पुजारी श्रद्धालुओं द्वारा चढ़ाई जाने वाली चुनरी को जबरन ले जाने का प्रयास कर रहा था, जिसे रोका गया तो बारीदार पुजारी गाली गलोज के साथ मारपीट पर उतारू हो गया। बताया जा रहा है कि मंदिर अधिकारी नीलम ने मामले में गंभीरता नहीं दिखाई और दोनों पक्षों में राजीनामा करवा दिया।


इतना ही नहीं उन्होंने मंदिर के सहायक आयुक्त को भी मामले की जानकारी देना मुनासिब नहीं समझा। लेकिन मामला मंदिर के सहायक आयुक्त एवं एसडीएम कांगड़ा के ध्यान आने पर उन्होंने मामले में कड़ा संज्ञान लेते हुए मंदिर प्रशासन को नोटिस जारी कर जवाब तलब किया है। उन्होंने कहा कि मामले में कड़ी कार्रवाई अमल में लाई जा रही है। उन्होंने बताया कि मामला जिलाधीश कांगड़ा के ध्यानार्थ भी ला दिया गया है, ताकि उचित कार्रवाई अमल में लाई जा सके।

वहीं, बारीदार पुजारी वर्ग के प्रधान व् मंदिर के ट्रस्टी राम प्रशाद शर्मा ने मामले की निंदा करते हुए कहा कि मंदिर में जो कुछ भी हुआ है वह सरासर गलत है। ऐसे मामलों की पुनरावृति न हो इसके लिए भू बैठक कर कदम उठाए जाएंगे। इसके अलावा ट्रस्टी नरेंद्र शर्मा का कहना है कि इस मामले में मंदिर आयुक्त को कार्यवाही अमल में लानी चाहिए ताकि ऐसे मामले दोबारा न हो सके। उन्होंने कहा कि अगली मंदिर ट्रस्ट की बैठक में ऐसे मामलों पर चर्चा की जायेगी।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है