Covid-19 Update

2,00,410
मामले (हिमाचल)
1,94,249
मरीज ठीक हुए
3,426
मौत
29,933,497
मामले (भारत)
179,127,503
मामले (दुनिया)
×

चीनी नागरिक पकड़े जाने की Fake News शेयर करने पर सेवानिवृत्त सैन्य अधिकारी के खिलाफ FIR

चीनी नागरिक पकड़े जाने की Fake News शेयर करने पर सेवानिवृत्त सैन्य अधिकारी के खिलाफ FIR

- Advertisement -

मंडी। सोशल मीडिया पर आज चीनी नागरिकों के पकड़े जाने की आठ साल पुरानी एक खबर वायरल करने के मामले में पुलिस ने सेवानिवृत सैन्य अधिकारी के खिलाफ एफआईआर (FIR) दर्ज की है। बुधवार को जब खबर को सोशल मीडिया में शेयर किया गया तो  मंडी पुलिस (Mandi Police) ने इस सबंध में  जांच पड़ताल शुरू की। मामला सामने आने के बाद मंडी पुलिस ने इस फेक न्यूज (Fake News) को लेकर एफआईआर दर्ज कर ली है। इसके साथ ही पुलिस ने सोशल मीडिया में पोस्ट डालकर सभी को अलर्ट कर दिया है कि यह खबर झूठी है और इसे शेयर न करें।

यह भी पढ़ें: पुलिस ने पकड़े Working Hours में बाजार घूम रहे आवश्यक सेवाओं में तैनात कर्मी

कोरोना महामारी के बीच सोशल मीडिया (Social Media) में फेक खबरें फैलाने वालों पर पुलिस लगातार कार्रवाई कर रही है। ताजा मामले में सोशल मीडिया में मंडी जिला में कुछ चीनी नागरिकों के पकड़े जाने की खबर वायरल हो गई है। पुलिस के ध्यान में मामला आने पर जांच पड़ताल की गई तो पता चला कि आठ साल पुरानी खबर को शेयर किया जा रहा है। पुलिस ने फेसबुक (Facebook) संबंधित व्यक्ति की प्रोफाइल की छानबीन कर फेक न्यूज फैलाने वाले पर मामला दर्ज कर लिया गया है। इसे लेकर फेसबुक प्रबंधन से भी जानकारी मांगी जा रही है। बताया जा रहा है कि यह फेसबुक प्रोफाइल एक सेवानिवृत सैन्य अधिकारी का है। ऐसे में एक्ससर्विस मैन के लिए पुरानी खबर शेयर करना अब आफत बन गया है।


यह भी पढ़ें: Una में अब रैपिड किट से होंगे कोरोना टेस्ट, फ्लू लक्षण वाले संदिग्धों की होगी जांच

हालांकि पुलिस इस मामले में छानबीन कर रही है। अब तक कर्फ्यू (Curfew) के दौरान मंडी जिला में फेक न्यूज से संबंधित 15 मामले दर्ज किए जा चुके हैं। जिनमें पुलिस जल्द छानबीन पूरी कर चालान कोर्ट में पेश करेगी। इसके साथ ही एसपी मंडी गुरदेव शर्मा ने सभी से अपील की है कि सोशल मीडिया में किसी भी प्रकार कोरोना महामारी से संबंधी फेक न्यूज न फैलाएं। फेक न्यूज सोशल मीडिया में अपलोड करना और फैलाना कानूनी जुर्म है। उन्होंनें कहा कि सभी फेक न्यूज शेयर करने से बचें।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है