×

कर्फ्यू में दुकानें खोलीं तो होगी FIR, पुलिस मीडिया कर्मियों के काम में न दे दखल

कर्फ्यू में दुकानें खोलीं तो होगी FIR, पुलिस मीडिया कर्मियों के काम में न दे दखल

- Advertisement -

ऊना। कर्फ्यू (Curfew) के दौरान दुकानें खोलने वाले दुकानदारों पर एफआईआर (FIR) दर्ज की जा रही है और सड़कों पर घूमने वाले वाहन जब्त किए जा रहे हैं। यह जानकारी डीसी ऊना संदीप कुमार ने दी है। कोरोना की रोकथाम के लिए जिला प्रशासन ऊना के साथ काम कर रहे विभिन्न विभागों के मध्य समन्वय स्थापित करने के उद्देश्य से आज बचत भवन में एक बैठक का आयोजन किया गया, जिसकी अध्यक्षता डीसी ऊना संदीप कुमार ने की। बैठक में डीसी ने कहा कि पूर्ण कर्फ्यू आम लोगों की सुरक्षा के लिए है और इसमें सभी का सहयोग आवश्यक है। उन्होंने कहा कि आदेशों की पालना न करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने पुलिस (Police) को निर्देश दिए कि प्रिंट व इलेक्ट्रॉनिक मीडिया कर्मियों के काम में दखल न दें।


डीसी ने कहा कि जिला ऊना में कोरोना के संक्रमण का कोई मामला सामने नहीं आया है, लेकिन लगभग 250 लोगों को होम क्वारंटीन में रखा गया है। सभी के घरों पर निशान लगाए गए हैं और उनके अलग-थलग रहने की अवधि को भी दर्शाया गया है। डीसी ने होम क्वारंटीन में रखे सभी लोगों से आदेशों का सख्ती से पालन करने के निर्देश देते हुए कहा कि अगर कोई अवहेलना हुई तो उन्हें खड्ड में बनाए गए क्वारंटीन सेंटर में भेज दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि लोगों के हित को देखते हुए आदेश जारी किए जा रहे हैं और इन आदेशों को सख्ती से लागू किया जा रहा है।

जनता के सहयोग से समय-समय पर कर्फ्यू में ढील

डीसी ने कहा कि कोरोना की रोकथाम के लिए कर्फ्यू लगाया गया है, लेकिन प्रशासन लोगों की रोजमर्रा की जरूरत से अवगत है। इसलिए समय-समय पर कर्फ्यू में ढील भी दी जाएगी, ताकि लोग अपनी जरूरत का सामान जैसे राशन, दवा, दूध व सब्जी की खरीद कर सकें। ढील के दौरान सिर्फ जरूरी सामान की दुकानें ही खुली रहेंगी और अपनी दुकानों पर लोगों की भीड़ जमा न होने देना भी दुकानदार की ही जिम्मेदारी होगी। खरीददार जिला प्रशासन का सहयोग करें। डीसी ने कहा कि कर्फ्यू में ढील के दौरान भी दोपहिया व चार पहिया वाहनों को चलाने की अनुमति नहीं रहेगी।


फंसे लोगों को निकालने का प्रयास

संदीप कुमार ने कहा कि सीमा पर कुछ लोगों के कर्फ्यू में फंसे होने की सूचना प्राप्त हो रही है और उन्हें जिला प्रशासन निकालने के लिए प्रयास किए जा रहे हैं। उनके रहने व खाने की व्यवस्था प्रशासन की ओर से की जा रही है। कुछ प्राइवेट संस्थानों के वाहनों को भी जिला प्रशासन ने अपने अधीन लिया है, ताकि आवश्यकतानुसार उनका  प्रयोग किया जा सके। उन्होंने सभी अधिकारियों को इंसानियत को ध्यान में रखकर कार्य करने के निर्देश दिए। मदद करने के लिए आगे आ रही सामाजिक संस्थाओं का डीसी ने धन्यवाद किया। उन्होंने कहा कि वैश्विक संकट की इस घड़ी में मदद का हाथ बढ़ाने वाले सभी लोगों व संस्थाओं का जिला प्रशासन धन्यवाद करता है।

डायलिसिस के मरीजों को पिक एंड ड्रॉप

डीसी ने कहा कि जिन मरीजों को डायलिसिस की आवश्यकता रहती है उन्हें एंबुलेंस के माध्यम से अस्पताल तक पहुंचाया जा सकता है और इसके लिए मरीज क्षेत्रीय अस्पताल ऊना के नंबर पर संपर्क कर सकते हैं और डीडीएमए के नंबर 1077 पर भी बात की जा सकती है।

हर थाने में क्यूआरटी तैनात

बैठक में एसपी कार्तिकेयन गोकुलचंद्रन ने कहा कि कोई भी सूचना पुलिस के साथ साझा करने के लिए कंट्रोल रूम बनाया गया है, जिसके लिए 194 या 8219477707 पर बात की जा सकती है। उन्होंने कहा कि हर थाने में क्यूआरटी तैनात की गई है और अगर कोई होम क्वारंटीन को तोड़कर लोगों की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ कर रहा है तो उस पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि कर्फ्यू का उल्लंघन न करने पर भी सख्त कार्रवाई होगी। बैठक में एडीसी अरिंदम चौधरी सहित सभी प्रशासनिक अधिकारी उपस्थित रहे।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है