Expand

साल का पहला सूर्यग्रहणः इन 4 राशि वालों पर होगी खुशियों की बरसात

खोया हुआ सच्चा प्यार मिल सकता है

साल का पहला सूर्यग्रहणः इन 4 राशि वालों पर होगी खुशियों की बरसात

- Advertisement -

साल 2019 में कुछ 5 ग्रहण होंगे, इनमें तीन सूर्य ग्रहण और दो चंद्र ग्रहण हैं।

साल 2019 का पहला सूर्य ग्रहण पड़ेगा। यह सूर्य ग्रहण 6 जनवरी को लगेगा जो कि आंशिक होगा। लेकिन यह ग्रहण भारत में दिखाई नहीं देगा। पं दयानन्द शास्त्री के अनुसार 2019 का पहला सूर्य ग्रहण 6 जनवरी को लगेगा जो कि आंशिक होगा। यह दिन साल का सबसे बड़ा ऐसा दिन होगा, जिस दिन कई तरह के संयोग बन रहे हैं । यह सूर्य ग्रहण पौष अमावस्या के दिन पड़ रहा है। सूर्य ग्रहण के बाद 4 राशि के लोगों के भाग्य के द्वार खुलने वाले है। और इनकी किस्मत चमकने वाली है। आइए जानते हैं वो चार राशि कौनसी है। वे भाग्यशाली राशियां सिंह, धनु, तुला और कुंभ राशि है। इन राशि के जातकों के लिए समय बेहद खास होगा, शिक्षा नौकरी और व्यापार के क्षेत्र में किए गए प्रयास सफल होंगे। आपके जीवन में आने वाली सभी प्रकार की विनाशकारी शक्तियों का नाश होगा। आपको भारी धन लाभ होने की संभावना बन रही हैं। बच्चों की ओर से शुभ समाचार मिलेगा। आपके हर कार्य में परिवार का साथ रहेगा। किसी नये कार्य को करने से पहले परिवार की सलाह अवश्य लें, हालांकि निवेश में लाभ के प्रबल योग हैं। आपका व्यापार एकदम से प्रगति करने वाला है। आप नया व्यापार भी शुरू कर सकते हैं।

आपकी धन संबंधी सभी समस्याएं अब समाप्त होने वाली है। कामकाज के सिलसिले में आपके ऊपर जिम्मेदारियों का बोझ बढ़ सकता है वकील के पास जाकर कानूनी सलाह लेने के लिए अच्छा दिन है। आने वाला समय बहुत ही अच्छा बीतेगा, अपनी वाणी पर नियंत्रण रखें। इस समय आपको अपने क्रोध को त्याग कर शांति का मार्ग धारण करने की जरूरत है। आपके सभी बिगड़े काम बनने लगेंगे। आपको अपना खोया हुआ सच्चा प्यार मिल सकता है।

सूर्यग्रहण भारतीय समयानुसार 5 एवं 6 जनवरी (शनिवार -रविवार) 2019 की रात में लगेगा, चूंकि सूर्यग्रहण हमेशा दिन में ही लगता हैं, और यह साल का पहला सूर्यग्रहण विदेशों में ही दिखाई देगा और रात्रिकाल होने के कारण भारत में नहीं दिखाई देगा, और ना ही इसका प्रभाव भारत में नहीं पड़ेगा ।

भारतीय समय के अनुसार सूर्यग्रहण 5 जनवरी की आधी रात में शुरू होकर 6 जनवरी को भारत में सूर्योदय से पूर्व ही समाप्त हो जायेगा यह ग्रहण मध्य-पूर्वी चीन, जापान, उत्तरी-दक्षिणी कोरिया, उत्तर-पूर्वी रूस, मध्य-पूर्वी मंगोलिया, प्रशांत महासागर, अलास्का के पश्चिमी तटों पर दिखाई देगा । चूंकि ग्रहण भारत में दिखाई नहीं देगा इसलिए यहां सूतक भी नहीं माना जाएगा। लेकिन ग्रहणकाल में अपने ईष्ट के बीज मंत्र का मानसिक जप अवश्य करें ।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है