×

Power Fancing लगाओ नहीं आएंगे बंदर व जंगली जानवर

Power Fancing लगाओ नहीं आएंगे बंदर व जंगली जानवर

- Advertisement -

सोलन। किसानों की फसलों को बंदरों व अन्य जंगली जानवरों से निजात दिलाने के लिए प्रदेश सरकार द्वारा मुख्यमंत्री खेत संरक्षण योजना शुरू की गई है, इस योजना के  तहत जिला का पहला सोलर फेंसिंग उपकरण सोलन में स्थापित किया गया। कृषि विभाग विकास खंड द्वारा देवठी पंचायत के ग्राम रणों में किसान नेकराम कश्यप की जमीन के चारों ओर सोलर पॉवर फेंसिंग लगाई गई है। जिससे बंदर व अन्य जंगली जानवर फसलों को नुकसान नहीं पहुंचा सकेंगे। ताकि किसानों को इसका भरपूर लाभ मिल सके।


  • जिला का पहला सोलर फेंसिंग उपकरण सोलन में स्थापित 
  • कृषकों को कृषि विभाग द्वारा 60 प्रतिशत अनुदान

इस योजना के तहत कृषि विभाग विशेषज्ञ डॉ डीपी गौतम ने मौके का निरीक्षण व पॉवर उपकरण के कार्य करने का भी जायजा लिया। इस योजना के बारे में जानकारी देते हुए डॉ डीपी गौतम ने बताया कि मुख्यमंत्री खेत संरक्षण योजना के अंतर्गत जिला का पहला उपकरण रनों गांव के नेकराम कश्यप की जमीन मे लगाया गया है। जिसमें कृषकों को कृषि विभाग द्वारा 60 प्रतिशत अनुदान दिया जा रहा है। इसके तहत किसान को 40 प्रतिशत राशि ही खर्च करनी होती है। प्रदेश के विद्युत विभाग से सेवानिवृत होने के पश्चात इंजीनियर नेकराम कश्यप कृषि का कार्य करते है। लेकिन सोलर पॉवर फेंसिंग लगवाने से पहले जंगली जानवर उनके खेतों में लगाई गई फसलों सहित फलदार पौधों के फलों को तबाह कर देते थे।

कश्यप द्वारा कृषि विभाग खंड सपरून में इस योजना से लाभ लेने के लिए पहल की गई। इंजीनियर कश्यप को बिजली के उपकरणों का पूर्ण ज्ञान है।  उन्होंने अपनी जमीन में सोलर फेंसिंग करवाई है।  मनुष्य व जानवरों को इस सोलर तारों से किसी भी तरह का जानमाल नुकसान नहीं होता है। जानवर को करंट लगने से मात्र कुछ समय के लिए मूर्छित हो जाता है।  नेकराम कश्यप ने  बताया कि इस योजना की पूर्ण जानकारी अभी तक किसानों को नही हैं। जिसके लिए जिला व खंड स्तर पर जागरूकता शिविर लगाने की आवश्यकता है। ताकि अधिक से अधिक किसान इस योजना से लाभान्वित हो सके। उन्होंने कहा कि वह तो काफी समय से ही इस तरह का उपकरण अपनी जमीन में लगवाने की योजना 2 वर्षों से बना रहे थे। तभी प्रदेश सरकार द्वारा मुख्यमंत्री खेत संरक्षण योजना शुरू की । उनका मानना है कि इस योजना का लाभ उन्हें अवश्य मिलेगा। 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है