×

Bihar में रिपीट हुआ बुराड़ी केस, एक ही परिवार के पांच सदस्यों ने एक साथ लगा लिया फंदा

गांव वालों की खबर पर मुखिया ने खुलवाई खिड़की तो उड़ गए होश

Bihar में रिपीट हुआ बुराड़ी केस, एक ही परिवार के पांच सदस्यों ने एक साथ लगा लिया फंदा

- Advertisement -

सुपौल। बिहार (Bihar) के सुपौल में दिल्ली (Delhi) के बुराड़ी जैसा एक मामला सामने आया है। यहां पर एक ही परिवार के 5 सदस्यों ने एक साथ फंदा लगाकर आत्महत्या (Suicide) कर ली। इसमें पति-पत्नी सहित उनके तीन बच्चे शामिल हैं। दिल दहला देने वाली ये घटना सुपौल जिला के राघोपुर थाना के गद्दी गांव की है। यहां पर देर रात गांव के ही मिश्री लाल साह के घर से तेज बदबू आई तो गांव वालों ने इसकी खबर मुखिया को दी। सूचना मिलने के बाद मुखिया ने रात को 9 बजे ग्रामीणों की मदद से मिश्री लाल के घर की खिड़की खोली तो सबके पैरों तले जमीन खिसक गई।


यह भी पढ़ें: Himachal : जंगल में पेड़ से लटका मिला 39 वर्षीय व्यक्ति का शव, जांच में जुटी पुलिस

 

 

बंद घर में एक साथ परिवार के सभी सदस्य फंदे पर लटके हुए थे। मुखिया ने तुरंत घटना की सूचना पुलिस (Police) को दी। मुखिया ने बताया कि कुछ ग्रामीण दिन में उनके घर पर आए हुए थे लेकिन वह उस वक्त बाहर गए थे। जब रात को वह 9 बजे लौटे तो ग्रामीणों ने घर से बदबू आने की बात कही। ग्रामीणों की मदद से उन्होंने खिड़की खोली तो देखा कि परिवार के सभी सदस्यों के शव एक कतार में फंदे से लटके हुए थे।

यह भी पढ़ें: शिवरात्रि पर परिवार गया था शिव मंदिर, पीछे से व्यक्ति ने लगा लिया फंदा; फतेहपुर में मिला शव

घटना की जानकारी मिलते ही रात को 12 बजे बीरपुर एएसपी, सुपौल पुलिस अधीक्षक मौके पर पहुंच गए और जांच शुरू की। पूरा गांव छावनी में तब्दील हो गया। मृतक के घर को पुलिस ने घेराबंदी में रखा और भागलपुर से FSL टीम को बुलाया। पुलिस अधीक्षक ग्रामीणों से बात कर बयान कलमबद्ध कर रहे हैं। मुखिया का कहना है कि इस परिवार की गांव में किसी से कोई दुश्मनी नहीं थी। मिश्री लाल के पास कोई रोजगार नहीं था तो उनको आशंका है कि उसने आर्थिक तंगी के कारण आत्महत्या की होगी। बता दें कि दिल्ली के बुराड़ी में भी ऐसा मामला सामने आया था जिसमें एक घर में एक ही परिवार के 11 लोगों ने खुदकुशी कर ली थी।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है