Covid-19 Update

2,06,589
मामले (हिमाचल)
2,01,628
मरीज ठीक हुए
3,507
मौत
31,767,481
मामले (भारत)
199,936,878
मामले (दुनिया)
×

कश्मीर के Floating Gardens खूबसूरती का भंडार

कश्मीर के Floating Gardens खूबसूरती का भंडार

- Advertisement -

कश्मीर खूबसूरत तो है ही, पर इतिहास संस्कृति और सभ्यता की दृष्टि से कम समृद्ध नहीं है। शंकराचार्य का मंदिर, हजरतबल की पवित्रता और डलझील का झिलमिलाता सौंदर्य कश्मीर की पहचान हैं। श्रीनगर का सबसे बड़ा आकर्षण यहां की डल झील है। दिनभर में इस झील की खूबसूरती का अलग-अलग रंग दिखाई देता है। देखा जाए तो डल झील अपने आपमें एक तैरते नगर के समान है।

तैरते आवास यानी हाउसबोट, तैरते बाजार और तैरते वेजीटेबल गार्डन इसकी खासियत हैं। जरूरतों ने इन गार्डन्स को बढ़ाया और अब यह एक फलता-फूलता कारोबार है। सब्जियां तैरते हुए हिस्से पर उगाई भी जाती हैं और उसी तरह बेची भी जाती हैं। घूमते हुए शॉल, केसर, आभूषण, फूल आदि बेचने वाले अपने शिकारे में सजी दुकान के साथ आपके करीब आते रहेंगे। यही नहीं, आप पानी में तैरते फोटो स्टूडियो में कश्मीरी ड्रेस में अपनी तसवीर भी खिंचवा सकते हैं।


डोगरा राजाओं के काल से शुरू हुआ था हाउसबोट का प्रचलन

कश्मीर में हाउसबोट का प्रचलन डोगरा राजाओं के काल में तब शुरू हुआ था, जब उन्होंने किसी बाहरी व्यक्ति द्वारा कश्मीर में स्थायी संपत्ति खरीदने और घर बनाने पर प्रतिबंध लगा दिया था। उस समय कई अंग्रेजों और अन्य लोगों ने बड़ी नाव पर लकड़ी के केबिन बना कर यहां रहना शुरू कर दिया। बाद में स्थानीय लोग भी हाउसबोट में रहने लगे। श्रीनगर केवल प्राकृतिक सौंदर्य ही नहीं, वास्तु विरासत की दृष्टि से भी खूब समृद्ध है। यहां कई सुंदर मस्जिदें हैं। हजरत बल यहां का महत्वपूर्ण धर्मस्थल है।

यहां हजरत मोहम्मद का बाल संग्रहीत होने के कारण मुस्लिम समुदाय के लिए यह अत्यंत पवित्र स्थान है। मुगल बादशाहों को वादी-ए-कश्मीर ने सबसे अधिक प्रभावित किया था। यहां के मुगल गार्डन इस बात के प्रमाण हैं। ये उद्यान इतने बेहतरीन ढंग से बने हैं कि मुगलों का उद्यान-प्रेम इनकी खूबसूरती के रूप में यहां आज भी झलकता है। विश्व का सबसे ऊंचा गोल्फकोर्स भी यहीं है। सर्दियों में जब यहां ब़र्फ की मोटी चादर बिछी होती है तब यह स्थान स्कीइंग के शौकीन लोगों के लिए तो जैसे स्वर्ग बन जाता है। यहां चलने वाली गंडोला केबल कार द्वारा ब़र्फीली ऊंचाइयों तक पहुंचना रोमांचक लगता है। कश्मीर से कुछ यादगार वस्तुएं ले जानी हों तो यहां कई सरकारी एंपोरियम हैं। अखरोट की लकड़ी के हस्तशिल्प, पेपरमेशी के शो-पीस, लेदर की वस्तुएं, कालीन, पश्मीना एवं जामावार शाल, केसर, क्रिकेट बैट और ड्राइफूट आदि पर्यटकों की खरीदारी की खास वस्तुएं हैं।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है