Covid-19 Update

2,16,813
मामले (हिमाचल)
2,11,554
मरीज ठीक हुए
3,633
मौत
33,437,535
मामले (भारत)
228,638,789
मामले (दुनिया)

ये झील नहीं अजूबा है- यहां पानी के अंदर नजर आता है उल्टे पेड़ों का जंगल

ये झील नहीं अजूबा है- यहां पानी के अंदर नजर आता है उल्टे पेड़ों का जंगल

- Advertisement -

हमारी इस खूबसूरत धरती पर बहुत सारी ऐसी जगह हैं, जिनको प्रकृति ने अनोखे ढंग से संवारा है। इन जगहों को देखकर हर कोई हैरान रह जाता है और दांतों तले अंगुली दबाने को मजबूर हो जाता है। दुनिया में बहुत सारी झीलों के बारे में आप ने पढ़ा और सुना होगा। कहीं पहाड़ों के बीच तो कहीं घने जंगलों के बीच बनी ये झीलें आपने आप में अजूबा सी दिखती है। आज हम आपको एक ऐसी झील के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसके अंदर पूरा जंगल ही बसा हुआ है। ये झील भारत में नहीं बल्कि कजाकिस्तान ( Kazakhstan) में है और इस झील का नाम है- लेक कैंडी।

लेक कैंडी झील ( Lake Kandy) कजाकिस्तान के प्रमुख पर्यटन स्थलों में से एक है। यह झील देखने में इतनी खूबसूरत है कि इसे देखकर पर्यटक अभिभूत हो जाते हैं। यहां आने वाले जब झील में झांककर देखते हैं तो इसके अंदर एक पूरा जंगल( Forest) बसा है। और ये ऐसे लगता है मानो पानी में उल्टे पेड़ उगे हुए हैं। इस झील में लकड़ी के खंभे निकले हुए हैं, जो पेड़ों के हिस्से हैं। पेड़ का बाकी हिस्सा पानी के अंदर डूबा होता है

 

ये झील कजाकिस्तान के अल्माटी शहर से 280 किलोमीटर दूर है और समुद्र तल से लगभग 2,000 मीटर ऊपर की ऊंचाई पर स्थित है। कहा जाता है कि वर्ष 1911 में यहां भयानक भूकंप आया था, जिसके बाद पूरा इलाका में पानी से भर गया और पेड़ों से भरा एक जंगल भी पानी में डूब गया। झील का पानी बहुत ठंडा है और ये पेड़ों के लिए एक फ्रिज जैसा ही काम करता है। सर्दियों के मौसम में आइस डाइविंग और मछली पकड़ने के लिए ये झील लोगों की पसंदीदा जगह है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है