Covid-19 Update

2,06,369
मामले (हिमाचल)
2,01,520
मरीज ठीक हुए
3,506
मौत
31,726,507
मामले (भारत)
199,611,794
मामले (दुनिया)
×

वीरभद्र बोले- IGMC और कैंसर अस्पताल को ना बनाएं राजनीति का अखाड़ा

समाजसेवी सरबजीत सिंह उर्फ बॉबी की निशुल्क सेवाओं की सराहना की

वीरभद्र बोले- IGMC और कैंसर अस्पताल को ना बनाएं राजनीति का अखाड़ा

- Advertisement -

शिमला। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व पूर्व सीएम वीरभद्र सिंह (Former CM Virbhadra Singh) ने आईजीएमसी प्रशासन से कहा है कि वह मानवता के मंदिर आईजीएमसी (IGMC) व कैंसर अस्पताल को राजनीति का अखाड़ा ना बनने दे। वीरभद्र सिंह ने समाजसेवी सरबजीत सिंह उर्फ बॉबी की कैंसर अस्पताल को निशुल्क दी जा रही उनकी सेवाओं की सराहना करते हुए कहा कि उनका सेवा भाव औरों के लिए भी प्रेरणादायक है। उन्होंने इस बात पर हैरानी जताई है कि सरबजीत सिंह उर्फ बॉबी को 6 साल पूर्व आवंटित किए गए रैन बसेरे का गुपचुप तरीके से टेंडर करने व किसी ओर को आवंटित किया जा रहा है। उन्होंने इस निर्णय की आलोचना करते हुए कहा है कि यह गुरुसेवक बॉबी के साथ अन्याय है।

यह भी पढ़ें: Shimla: दो संस्थाओं की लड़ाई के बीच उलझा IGMC का रेन बसेरा, धरने पर बैठे ऑलमाइटी संस्था अध्यक्ष

उन्होंने कहा है कि पूर्व कांग्रेस सरकार ने आईजीएमसी में विशेष तौर पर कैंसर अस्पताल में रोगियों और उनके परिजनों की निशुल्क सेवा भाव को देखते हुए पूरे कायदे कानून के तहत सरबजीत सिंह को रैनबसेरा आवंटित किया था। उन्होंने कहा कि सरबजीत सिंह की सेवाभाव को देखते हुए देश के राष्ट्रपति ने भी इन्हें सम्मानित किया है। ऐसे में एक सच्चे समाजसेवी के साथ इस प्रकार का कोई भी अन्याय उनका समाजसेवा के प्रति अपमान है। उन्होंने कहा है कि सरबजीत सिंह आईजीएमसी के साथ-साथ कमला नेहरू अस्पताल में भी अपनी निशुल्क सेवाएं दे रहे हैं, ऐसे में उनका इस कार्य के लिए सम्मान किया जाना चाहिए, ना कि कोई अपमान। बॉबी रोगियों को निशुल्क भोजन के साथ-साथ रहने, लाने ले जाने की पूरी व्यवस्था के प्रति दिन रात लगे रहते हैं, ऐसे में उनके इस मनोबल को भी ठेस पहुंचने के प्रयास नहीं किए जाने चाहिए। वीरभद्र सिंह ने सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) से इस पूरे मामलें को गंभीरता से लेने को कहा है। उन्होंने कहा है कि आईजीएमसी ने रैनबसेरे का जो टेंडर जारी किया है, उसे तुरंत रद्द किया जाए और उनके अनशन को को समाप्त करवाया जाए।


हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …. 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है