Covid-19 Update

1,99,740
मामले (हिमाचल)
1,93,403
मरीज ठीक हुए
3,411
मौत
29,762,793
मामले (भारत)
178,254,136
मामले (दुनिया)
×

पूर्व सीपीएस ने कानून-व्यवस्था को लेकर घेरी सरकार और पुलिस

पूर्व सीपीएस ने कानून-व्यवस्था को लेकर घेरी सरकार और पुलिस

- Advertisement -

सुंदरनगर। हिमाचल प्रदेश की सुंदरनगर विधानसभा क्षेत्र में मौजूदा कानून-व्यवस्था को लेकर पूर्व विधायक एवं सीपीएस सोहन लाल ठाकुर ने पुलिस (Police) व प्रदेश सरकार पर तीखा हमला बोला है। रविवार को सुंदरनगर में आयोजित एक प्रेसवार्ता में सोहन लाल ठाकुर ने कहा कि पिछले कुछ समय में सुंदरनगर विधानसभा क्षेत्र में घटित जघन्य अपराधों के सामने आने और उनको दबाने को लेकर मंडी पुलिस (Mandi Police) व प्रदेश सरकार की कार्यप्रणाली संदेह के घेरे में आ गई है। उन्होंने कहा कि सुंदरनगर उपमंडल में अपराध का ग्राफ प्रतिदिन ऊचांइयों की ओर बढ़ रहा है।


यह भी पढ़ें: सीएम की घोषणाओं के कार्यान्वयन में लापरवाही की तो नपेंगे दोषी अधिकारी


सोहन लाल ठाकुर ने कहा कि अभी कुछ दिनों पहले सुंदरनगर विधानसभा क्षेत्र में महिला के साथ घटित दुष्कर्म मामले में पीड़ित महिला को तीन दिन थाने के चक्कर लगाने के बाद मामला दर्ज करवाने में सफलता प्राप्त हुई। उन्होंने कहा कि इस प्रकार से जघन्य अपराधों में तुरंत पीड़िता की प्राथमिकी दर्ज नहीं करने से सुंदरनगर पुलिस थाने की कार्यप्रणाली पर सवालिया निशान लगा दिए हैं।

सोहन लाल ठाकुर ने कहा कि दुष्कर्म मामले में शुरूआती दौर में ही पुलिस कार्रवाई को सार्वजनिक करने से जिला मंडी पुलिस की कार्यप्रणाली पर संदेह जग जाहिर कर दिया है। उन्होंने कहा कि पिछले कल एक रिटायर्ड एचएएस अधिकारी व वरिष्ठ कानूनी सलाहकार ने इस मामले की गोपनियता को लेकर भी मंडी पुलिस (Mandi Police) पर सवाल उठाए हैं, जिससे प्रतीत होता है कि प्रदेश में पुलिस राजनीतिक दबाव में कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि ‘ईन-कैमरा’ कार्रवाई को सार्वजनिक करने को लेकर मंडी पुलिस जवाब दे।


बीजेपी के दबाव के कारण आरोपी को मिला संरक्षण

सोहन लाल ठाकुर ने कहा कि दुष्कर्म मामले में आरोपी बीजेपी (BJP) का सक्रिय सदस्य है। उन्होंने कहा कि राजनीतिक दबाव बनाने और बीजेपी के नेताओं के संरक्षण से ही आरोपी पर कोई कार्रवाई अमल में नहीं लाई गई है। उन्होंने कहा कि मामले में आरोपी की सोशल मीडिया पर बीजेपी के छोटे से बड़े नेताओं के चित्रों ने राजनीतिक दबाव को सबके सामने ला दिया है। उन्होंने कहा कि प्राथमिकी दर्ज होने के बाद भी आरोपी खुला घूमता रहा और आज दिन तक कोई गिरफ्तारी नहीं की गई है।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …. 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है