Covid-19 Update

2,00,791
मामले (हिमाचल)
1,95,055
मरीज ठीक हुए
3,437
मौत
29,973,457
मामले (भारत)
179,548,206
मामले (दुनिया)
×

सुधीर का वारः आंकड़ों के दम पर Himachal को कोरोना मुक्त करने में लगी सरकार

सुधीर का वारः आंकड़ों के दम पर Himachal को कोरोना मुक्त करने में लगी सरकार

- Advertisement -

धर्मशाला। कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव एवं पूर्व मंत्री सुधीर शर्मा (Sudhir Sharma) ने आरोप लगाया है कि प्रदेश सरकार केंद्र के समक्ष सही स्थिति स्पष्ट नहीं कर रही है। सरकार धरातल की सही स्थिति की बजाए झूठी स्थिति केंद्र सरकार के समक्ष रख रही है। यहां जारी बयान में सुधीर शर्मा ने कहा कि कुछ दिन पहले पीएम नरेंद्र मोदी ने सभी राज्यों को हिमाचल के मॉडल को अपनाने की बात कही थी। उसमें उन्होंने उल्लेख किया था कि हिमाचल में सभी लोगों की कोरोना को लेकर स्कैनिंग की गई है और उनका डाटा लिया गया है। लेकिन धरातल पर ऐसा नहीं हुआ है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार आंकड़ों के दम पर हिमाचल को कोरोना मुक्त (Corona Free)  बनाने में लगी हुई। जबकि अभी भी धरातल पर खतरा बरकरार है। उन्होंने कहा कि बाहर से आ रहे लोगों की भी सीमाओं पर ढंग से स्कैनिंग नहीं हो रही है। कुछ स्थानों पर तो बाहर से आए लोगों को केवल उनका फोन नंबर और नाम लेकर ही प्रवेश दे दिया जा रहा है।

यह भी पढ़ें: केंद्र सरकार ने हिमाचल को दी 220.46 करोड़ रुपये की आर्थिक सहायता

ऐसे में यह स्थिति आने वाले समय में भयंकर हो सकती है। सरकार को चाहिए कि पूरे प्रदेश में रेंडम टेस्टिंग होनी । सरकार को चाहिए कि प्रदेश में अधिक से अधिक टेस्ट किए जाएं, बिना टेस्ट के किसी भी आंकड़े को सही नहीं माना जा सकता है। बिना टेस्ट के सामने आ रही स्थिति के कारण प्रदेश को भारी नुकसान उठाना पड़ सकता है। सुधीर शर्मा ने कहा कि हिमाचल में सरकार अभी भी स्वास्थ्य विभाग, पुलिस तथा प्रशासनिक सेवाओं में सबसे आगे के मोर्चे में लगे लोगों को पीपीई किट और अन्य जरूरी सामान उपलब्ध नहीं करवा पाई है।


 

प्रदेश के अधिकतर बॉर्डर और अन्य स्थानों में अभी भी ऐसे कर्मचारी मास्क के सहारे ही अपनी ड्यूटी कर रहे हैं। उन्होंने हैरानी जताई कि सरकार अभी तक ऐसी चीजों को खरीदने के लिए प्रक्रिया को ही पूरा नहीं कर पा रही है और अपने चहेते लोगों को टेंडर देने में ही समय गवा रहे हैं। सुधीर शर्मा ने सरकार से मांग की है कि इस दिशा में धरातल पर काम किया जाए। क्योंकि यह बीमारी लंबी जाएगी और बिना टेस्ट के ही इस बीमारी को खत्म मान लेना एक बड़ी लापरवाही हो सकती है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है