Covid-19 Update

2,18,000
मामले (हिमाचल)
2,12,572
मरीज ठीक हुए
3,646
मौत
33,617,100
मामले (भारत)
231,605,504
मामले (दुनिया)

विपिन परमार के भूमि पूजन कार्यक्रम में धरने पर बैठे पूर्व विधायक, जाने पूरा माजरा

प्रधान उपप्रधान को नहीं दी भूमि पूजन की जानकारी, भवन की जगह को लेकर हो रहा विवाद

विपिन परमार के भूमि पूजन कार्यक्रम में धरने पर बैठे पूर्व विधायक, जाने पूरा माजरा

- Advertisement -

भवारना। हिमाचल में आजकल कई राजनीति रंग देखने को मिल रहे हैं। भवारना विकास खंड की रिड़ा पंचायत भवन का शिलान्यास अचानक सुर्खियों में आ गया। शिलान्यास से पहले ही यहां विवाद शुरू हो गया है। भूमि पूजन कार्यक्रम में उस समय माहौल तनावपूर्ण हो गया जब स्‍थानीय विधायक एवं विधानसभा अध्‍यक्ष विपिन सिंह परमार (Vipin Singh Parmar) के मंगलवार को भूमि पूजन कार्यक्रम में कांग्रेस के पूर्व विधायक (Former MLA) धरने पर बैठ गए। पुलिस और प्रशासन की लाख कोशिशों के बाद भी धरने पर बैठे पूर्व विधायक जगजीवन पाल टस से मस नहीं हुए। हालांकि जगजीवन पाल के धरने पर बैठने के बावजूद विपिन परमार ने कार्यक्रम में पहुंच कर भूमि पूजन किया। वह पूर्व निर्धारित समय में कार्यक्रम में पहुंचे और पूरे विधि विधान से उन्होंने भूमि पूजन किया। पूर्व विधायक आमरण अनशन पर बैठ गए है।

यह भी पढ़ें: ब्रेकिंग: हिमाचल के इन जिलों की पंचायती राज संस्थाओं के चुनाव की अधिसूचना जारी

 

बता दें भवारना विकास खंड की रड़ा पंचायत भवन का शिलान्यास विधानसभा अध्यक्ष विपिन परमार ने करना था, लेकिन कुछ लोग जगह को लेकर विवाद कर रहे हैं। पंचायत प्रधान, उपप्रधान व तीन वार्ड पंच आरोप लगा रहे हैं कि उन्हें शिलान्यास कार्यक्रम की कोई सूचना ही नहीं दी गई थी। पूर्व सीपीएस जगजीवन पाल भी मौके पर पहुंचे और प्रधान व उप्रधान तथा तीन वार्ड सदस्यों के समर्थन में आकर धरने पर बैठ गए। इस दौरान दोनों ही तरफ से नारेबाजी शुरू हो गई। कुछ लोग इस जगह शिलान्यास चाहते हैं तो कुछ लोग अन्य जगह पर इस भवन के बनाने की मांग कर रहे हैं। दोनों तरफ से काफी देर तक गहमा गहमी जारी रही। इसी गहमागहमी में पूर्व विधायक के सिर पर चोट भी लगी है। जिसकी उन्होंने पुलिस में शिकायत भी दर्ज करवाई है।

पूर्व विधायक का आरोप है कि विधान सभा अध्यक्ष अपनी मर्जी कर रहे हैं और यहां की जनता को गुमराह कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि यह भवन जहंा पर बनना था वहां पर इसे नहीं बनाया जा रहा और विपिन परमार ने अपनी मर्जी से इसका किसी अन्य स्थान पर शिलान्यास कर दिया है। पंचायत प्रतिनिधियों को ना तो इस शिलान्यास और ना ही भवन निर्माण वाले स्थान के बारे में कोई जानकारी नहीं दी।

पुलिस भी मौके पर पहुंच गई।  हालांकि यह भी बड़ी बिडंबना कि जिस पंचायत में शिलान्यास हो रहा है उसी पंचायत के प्रधान व उप प्रधान सहित तीन जनप्रतिनिधियों को इसकी सूचना तक नहीं हैं। बता दें कि इस पंचायत के कुल पांच वार्ड हैं और साढ़े नौ सौ की आबादी है, लेकिन मजे की बात यह है कि पांच वार्डों के इस पंचायत में सिर्फ दो पंच ही शिलान्यास करवाने की तैयारी कर चुके हैं और प्रधानए उपप्रधान व तीन अन्य वार्ड पंचों को इसकी सूचना तक नहीं है।

वहीं जब इस बारे में विधान सभा अध्यक्ष विपिन परमार से बात की गई तो उन्होंने किसी भी सवाल का जबाव देने से इंकार कर दिया। उन्होंने सिर्फ इतना ही कहा कि मैने जो किया है वह ठीक किया है। मुझे किसी के प्रमाण की जरूरत नहीं हैं

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है