Covid-19 Update

2,04,685
मामले (हिमाचल)
2,00,233
मरीज ठीक हुए
3,491
मौत
31,219,374
मामले (भारत)
192,489,942
मामले (दुनिया)
×

शांता बोले-बिरादरी के नाम पर वोट नहीं मांग रही बीजेपी, इन्वेस्टर मीट पर कही यह बात

शांता बोले-बिरादरी के नाम पर वोट नहीं मांग रही बीजेपी, इन्वेस्टर मीट पर कही यह बात

- Advertisement -

धर्मशाला। पूर्व सांसद शांता कुमार ने कहा कि बीजेपी ने उपचुनाव (By-Election) में टिकट बिरादरी के नाम पर नहीं दिया है। न ही बीजेपी (BJP) बिरादरी के नाम पर वोट मांग रही है। बीजेपी (BJP) जातिगत आधार पर हरगिज राजनीति नहीं करती है। पूर्व सांसद शांता कुमार यहां मीडिया से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि धर्मशाला में एक माह के अंदर दो महत्पूर्ण आयोजन होने जा रहे हैं। 8 और 9 नवंबर को इन्वेस्टर मीट (Investor meet) है तो इससे पहले वोटर मीट है। उनके लिए यह दोनों ही महत्वपूर्ण हैं।


इन्वेस्टर मीट (Investor meet) हिमाचल के विकास के इतिहास में मील पत्थर साबित होगी। विपक्ष पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि विपक्ष विरोध के लिए विरोध कर रहा है। इन्वेस्टर मीट के लिए सीएम जयराम, उनकी सरकार व अधिकारियों ने बड़ा होमवर्क किया है। इन्वेस्टर मीट (Investor meet) को लेकर उनसे भी सुझाव मांगे गए थे जोकि उन्होंने दिए हैं। उन्होंने कहा कि चंबा सीमेंट प्लांट (Chamba Cement Plant) और पालमपुर रोप वे उनका सपना है और इस कदम से यह सपना जरूर पूरा होगा। इससे न केवल हिमाचल में निवेश आएगा बल्कि बेरोजगारी भी कम होगी।

कसौली में हुए खुशवंत सिंह लिटफेस्ट कार्यक्रम को लेकर उन्होंने कहा कि वह चाहते हैं, उनके प्रदेश में इस तरह के कार्यक्रम बड़े पैमाने पर हों। लेकिन, कोई ऐसी बात नहीं होनी चाहिए, जिससे विवाद खड़ा हो। जोकि इस बार हुआ है। कार्यक्रम में संवाद, विचार विर्मश और संवाद विनिमय हो, लेकिन विवाद की बात न आए।

यह भी पढ़ें :-औषधीययुक्त खीर खाने लंबलू में उमड़ी भीड़, दमा, खांसी से मिलती है निजात

शांता कुमार ने कहा कि पठानकोट एयरबेस को गगल शिफ्ट करने का रक्षा मंत्रालय विचार कर रहा है। अगर ऐसा होता है तो यहां पर आर्मी का बड़ा एयरबेस बन जाएगा। हवाई अड्डे का विस्तार होगा। सांसद रहते उन्होंने इसके लिए प्रयास किया है। सीएम जयराम ठाकुर और वर्तमान सांसद किशन कपूर भी प्रयास कर रहे हैं। अगर एयरबेस यहां नहीं आया तो कांगड़ा हवाई अड्डे का विस्तार तो होगा ही। इससे पर्यटन को पंख लगेंगे। जो कमियां रह गई हैं, उन्हें दूर किया जाएगा।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …. 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है