Covid-19 Update

2,04,887
मामले (हिमाचल)
2,00,481
मरीज ठीक हुए
3,495
मौत
31,329,005
मामले (भारत)
193,701,849
मामले (दुनिया)
×

#FarmerProtest : ठगों ने प्रदर्शन में भी ढूंढ लिया ठगी का तरीका, कुंडली बॉर्डर में हजारों किसान ठगे

एक हजार किसानों से की वसूली, BKU नेता का फर्जी अकाउंट बना मांगा चंदा

#FarmerProtest : ठगों ने प्रदर्शन में भी ढूंढ लिया ठगी का तरीका, कुंडली बॉर्डर में हजारों किसान ठगे

- Advertisement -

सोनीपत। ठगों का कोई दीन-ईमान नहीं होता। ये तो बस हर जगह मौके ही ढूंढते रहते हैं कि कहां से  कैसे लोगों को ठग कर पैसा बनाया जाए। ऐसा ही एक मामला किसान आंदोलन (Farmers Protest) के दौरान कुंडली बॉर्डर (Kundli Border) पर  बैठे किसानों के साथ हुआ है। यहां ठगों (Cheaters) ने सेवा के नाम लाखों रुपये प्रदर्शनकारी किसानों से ठग लिए। यही नहीं, ठगों ने तो ठगी (Fraud) के लिए भारतीय किसान यूनियन के अध्यक्ष गुरनाम सिंह चढूनी (Gurnam Singh Chadhuni) को भी नहीं बख्शा।

यह भी पढ़ें:  #Punjab : पंजाब कांग्रेस नेता ने कहा, किसान आंदोलन में घुस चुके हैं खालिस्तानी देशद्रोही

एक मामले में ठगों ने किसान नेता गुरनाम सिंह चढूनी की फर्जी फेसबुक आईडी बना ली और फिर गणतंत्र दिवस पर ट्रैक्टर रैली के नाम लोगों से पैसे मांगने लगे। चढूनी को इस फर्जीबाड़े को रोकने के लिए खुद वीडियो जारी करना पड़ा। अब तक यह सामने नहीं आया है कि उनका फर्जी अकाउंट बना कर कितने पैसे ठगों ने ऐंठ लिए हैं। इसके अलावा कुंडली बॉर्डर पर भी सेवा के नाम पर किसानों से पैसे ऐंठने का मामला सामने आया है।


बताया जा रहा है कि कुछ ठग युवक सेवा के नाम पर वहां किसानों से चंदा ले रहे थे। किसान भी उन्हें 100 रुपये से लेकर 500 रुपये सेवा के  लिए दे रहे थे। चंदा देने वालों को कोई भी रसीद नहीं दी जा रही थी। बताया जा रहा है कि इस तरह करीब एक हजार किसानों को ठगा जा चुका है, जबकि कुंडली बॉर्डर पर एक मुख्य मंच बनाया गया है उसके पास ही चंदा लिया जाता है और उसके बाद चंदा देने वाले को बाकायदा रसीद भी दी जाती है।

इस बात का  पता चलने के बाद किसान नेताओं को अपील करनी पड़ी कि कोई ऐसा करता हुआ पाया गया तो उसे पुलिस के हवाले कर दिया जाएगा। अब लोगों को भी बताया जा रहा है कि चंदा कहां और कैसे दें और रसीद भी लें। बहरहाल मामले में कोई एफआईआर दर्ज नहीं हुई है, लेकिन साफ है कि ठगों ने ठगी का गोरखधंधा किसान प्रदर्शन स्थलों पर भी शुरू कर दिया है।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …. 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है