Covid-19 Update

1,99,430
मामले (हिमाचल)
1,92,256
मरीज ठीक हुए
3,398
मौत
29,685,946
मामले (भारत)
177,559,790
मामले (दुनिया)
×

पहाड़ों पर बिखरी चांदी, मैदानी इलाकों में खिली धूप

पहाड़ों पर बिखरी चांदी, मैदानी इलाकों में खिली धूप

- Advertisement -

शिमला/कुल्लू।प्रदेश की ऊंची चोटियों में बर्फबारी के बाद आज गुरुवार को दिन की शुरूआत खिली धूप से हुई है। लाहुल स्पीति, किन्नौर, शिमला के ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी के बाद निचले इलाकों में ठंड बढ़ गई है। शिमला के ऊपरी इलाकों नारकंडा, खड़ापत्थर, रोहड़ू की चांशल घाटी,खदरला, कोटखाई के बागी, ठियोग के शाली टिब्बा,और चूड़धार , की ऊंची पहाड़ियों में बुधवार रात को हिमपात हुआ है। इस बर्फबारी को को किसानों के लिए लाभकारी माना गया है।

उधर कुल्लू व लाहुल- स्पीति घाटी में तीन दिन से बारिश व बर्फबारी के बाद गुरुवार को मौसम साफ हो गया है। बीती रात पहाड़ियों पर बर्फबारी और निचले क्षेत्रों में जमकर बारिश से तापमान में भारी गिरावट आई है।मनाली में इस सीजन का पहला हिमपात हुआ है। सेवन सिस्टर्स, हनुमान टिब्बा,देऊ टिब्बा,लगघाटी व मणिकर्ण घाटी,सैंज,बंजार की ऊंची पहाड़ियां 3 फीट से ज्यादा बर्फबारी हुई है।


वहीं बिजली महादेव में 3 इंच, मलाणा में आधा फुट, रोहतांग दर्रे पर 3 फीट,मढ़ी में 1 और सोलंग नाला में आधा फुट बर्फ गिरी है। घाटी में बर्फबारी,बारिश के बाद किसानों ,बागवानों के साथ पर्यटन व्यवसायियों ने खुशी जताई है। प्रदेश के अन्य इलाकों में भी बुधवार शाम को बारिश होने से ताममान में गिरावट दर्ज की गई।

मौसम रहेगा शुष्क

शिमला में अधिकतम तापमान 16.2 न्यूनतम 03.3 , भूंतर में अधिकतम 20.5 – न्यूनतम 04.3 कल्पा में अधिकतम 08.6 -न्यूनतम 0.8 धर्मशाला में अधिकतम 18.2- न्यूनतम 08.8 तथा मनाली में अधिकतम 10.6 व न्यूमतम -1.2 डिसे दर्ज किया गया। मौसम विभाग की ओर से आगामी 24 घंटों के दौरान मौसम शुष्क रहने की संभावना जताई है।

चूड़धार चोटी पर बर्फबारी, मैदानी इलाकों में शीतलहर

नाहन। जिला सिरमौर की सबसे ऊंची चोटी चूड़धार पर पिछले दो दिन से बर्फबारी का सिलसिला जारी है। यहां रूक-रूक कर ताजा हिमपात जारी है।पहाड़ों पर बर्फबारी व बुधवार की रात जिले में हुई बारिश के बाद सिरमौर शीतलहर की चपेट में है। मैदानी इलाके भी कड़कड़ाती ठंड का सामना कर रहे हैं। ऊंचाई वाले क्षेत्रों में तापमान माइनस में जाने से पेयजल आपूर्ति करने वाली पाइप लाइनों के साथ साथ पेयजल स्रोत भी जम गए हैं। ऐसे में ग्रामीणों के समक्ष पेयजल समस्या से निपटना भी किसी बड़ी चुनौती से कम नहीं है।

ताजा हिमपात होने से तापमान माइनस में

चूड़ेश्वर सेवा समिति के अध्यक्ष बाबूराम शर्मा ने बताया कि चूड़धार में रूक -रूक कर ताजा हिमपात होने से तापमान माइनस में चल रहा है। शाम के समय बर्फीली हवाएं चल रही हैं।उन्होंने बताया कि गुरुवार तक चूड़धार में 12-15 सेंटीमीटर तक ताजा हिमपात हो चुका है। ऐसे में पेयजल की लाइन जाम हो गई हैं। चूड़धार में पानी की आपूर्ति करने वाली बावड़ी का पानी भी जम गया है। लिहाजा, श्रद्धालुओं के लिए भंडारा बनाने में भी दिक्कतें आ रही हैं। उन्होंने श्रद्धालुओं से आह्वान किया कि चूड़धार आते वक्त यहां से मौसम की जानकारी हासिल कर लें, जिससे उन्हें रास्ते में कोई दिक्कतें न हों।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है