Covid-19 Update

1,98,551
मामले (हिमाचल)
1,90,377
मरीज ठीक हुए
3,375
मौत
29,505,835
मामले (भारत)
176,585,538
मामले (दुनिया)
×

आज से देश में बदलेंगे कई नियम, Ration Card, रेलवे और पेट्रोल कीमत से जुड़े हैं बदलाव

आज से देश में बदलेंगे कई नियम, Ration Card, रेलवे और पेट्रोल कीमत से जुड़े हैं बदलाव

- Advertisement -

नई दिल्ली। लॉकडाउन 5.0 के साथ ही आज से देश में काफी कुछ बदलने वाला है। इन बदलावों (Changes) का आपकी जिंदगी पर सीधा असर पड़ेगा। इन नए नियमों से जहां एक ओर आपको राहत मिलेगी, वहीं अगर आपने कुछ बातों का ध्यान नहीं रखा तो आपको आर्थिक नुकसान (Economic loss) भी हो सकता है। इनमें रेलवे, एयरलाइंस, गैस सिलिंडर, पेट्रोल-डीजल के दाम, राशन कार्ड, आदि शामिल हैं। आइए जानते हैं इन जरुरी बदलावों के बारे में …

यह भी पढ़ें: कोविड-19 की चुनौतियों के बीच कुछ यूं रखा जा रहा है बुजुर्ग Tibetan पीढ़ी का ख्याल, देखें तस्वीरें


आज से चलेंगी 230 ट्रेनें

लॉकडाउन के चलते देश के अलग-अलग हिस्सों में फंसे लोगों को राहत देने के लिए भारतीय रेलवे (Indian Railways) एक जून से 200 अतिरिक्त ट्रेनें चलाने जा रहा है, जो नॉन एसी होंगी। रेल मंत्री पीयूष गोयल ने ट्वीट करके इस बात की पुष्टि भी की है। इन ट्रेनों के साथ पहले से संचालित हो रही 30 ट्रेनों का परिचालन जारी रहेगा। रेलवे ने इन ट्रेनों के लिए चार महीने पहले एडवांस टिकट की बुकिंग की सुविधा भी दी है। साथ ही तत्काल कोटा के तहत भी टिकट की बुकिंग शुरू हो गई है। यह सुविधा रविवार सुबह आठ बजे से शुरू हो गई है। हालांकि, रेलवे ने टिकट की एडवांस बुकिंग के नियमों में कुछ परिवर्तन किया है।

देश में लागू होगा ‘एक देश, एक राशन कार्ड’

आज से देश में ‘एक देश, एक राशन कार्ड’ लागू होने जा रहा है। इससे गरीबों को काफी राहत पहुंचेगी। इसकी शुरुआत 20 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों से होगी। इसके तहत राशन कार्ड का लाभ देश के किसी भी कोने में उठाया जा सकेगा। मोदी सरकार की इस योजना से 67 करोड़ लोगों को फायदा मिलेगा।
मौजूदा समय में जिस जिले का राशन कार्ड बना होता है, आपको उसी जिले में राशन मिल सकता है। वहीं अगर आप जिला बदल लेते हैं तो इसका फायदा आपको नहीं मिलता। इससे गरीबों को आसानी से सस्ती कीमत पर अनाज मिलता है। एक देश, एक राशन कार्ड लागू होने के बाद गरीबी रेखा के नीचे वाले लोग किफायती कीमत पर देश के किसी कोने में राशन खरीद सकते हैं। राशन कार्ड को आधार से लिंक कराने की आखिरी तारीख 30 सितंबर है।

घरेलू उड़ानें शुरू करेगी गो एयर

किफायती विमानन सेवाएं देने वाली कंपनी गो एयर एक जून से घरेलू परिचालन शुरू करेगी। अन्य कंपनियां 25 मई से इसकी शुरुआत कर चुकी हैं, लेकिन परिचालन और नियामक से जुड़ी कुछ दिक्कतों के कारण गो एयर को देरी हुई। नागरिक उड्डयन राज्य मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने ट्विटर पर कहा था कि सभी हितधारकों के लिए व्यापक मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) के तहत 25 मई से विमानन कंपनियों को घरेलू परिचालन की अनुमति दी गई है।

रसोई गैस सिलेंडर के दाम में होगा बदलाव

आज से देश में रसोई गैस सिलेंडर का दाम बदल जाएगा। तेल कंपनियां हर महीने की शुरुआत में एलपीजी सिलेंडर के दामों की समीक्षा करती है। हर राज्य में टैक्स अलग-अलग होता है और इसके हिसाब से एलपीजी के दामों में अंतर होता है। यानी अगर इसकी कीमत में इजाफा हुआ, तो आपको ज्यादा पैसे चुकाने होंगे। मई में 19 किलोग्राम और 14.2 किलोग्राम वाले गैर-सब्सिडी एलपीजी सिलेंडर के दाम सस्ते हुए थे। दिल्ली में 14.2 किलोग्राम वाला गैर-सब्सिडी एलपीजी सिलेंडर एक मई को 162.50 रुपये सस्ता हो गया था। इसके बाद इसकी कीमत 581.50 रुपये हो गई है, जो पहले 744 रुपये थी। कोलकाता में इसका दाम 774.50 रुपये से घटकर 584.50 रुपये, मुंबई में 714.50 रुपये से कम होकर 579 रुपये और चेन्नई में यह इसका दाम 569.50 रुपये है।

कुछ राज्यों में बढ़ेगा पेट्रोल-डीजल का दाम

कई राज्यों ने पिछले दिनों वैट बढ़ाकर फ्यूल महंगा कर दिया। अब मिजोरम सरकार ने एक जून से राज्य में पेट्रोल पर 2.5 फीसदी और डीजल पर 5 फीसदी की दर से वैट बढ़ाए जाने का एलान किया है, जिससे राज्य में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी होगी। इसके अतिरिक्त जम्मू-कश्मीर ने भी कीमत में बढ़ोतरी का एलान किया है। जम्मू-कश्मीर में एक जून से पेट्रोल की कीमत में दो रुपये और डीजल की कीमत में एक रुपये की वृद्धि की गई है। लॉकडाउन में हुए घाटे को पाटने के लिए तेल विपणन कंपनियां जून में पेट्रोल-डीजल के बढ़ा सकती हैं। कंपनियां अगले महीने से कीमतों में रोजाना बदलाव की व्यवस्था को दोबारा बहाल करने की भी तैयारी में हैं। लॉकडाउन में कम बिक्री के साथ सरकारों ने भी टैक्स बढ़ा दिया जिससे लागत और बिक्री में काफी अंतर आ गया है।

यूपी में 20 रूटों पर रोडवेज बस चलाने की तैयारी

यूपी रोडवेज ने एक जून से प्रदेश के विभिन्न मार्गों पर बस संचालन की तैयारी की है। इस संबंध में रोडवेज मुख्यालय ने प्रयागराज परिक्षेत्र क्षेत्र समेत प्रदेश के सभी क्षेत्रीय प्रबंधकों को निर्देश दिया है कि वह अपनी सभी बसों को 30 मई तक फिट कर दें। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिए बसों में अधिकतम 30 यात्री सवार किए जाएंगे। बताया जा रहा है अभी रोडवेज द्वारा केवल उन मार्गों पर बसों का संचालन किया जाएगा, जहां यात्री की पर्याप्त संख्या के साथ आय भी ज्यादा होती है। इसके लिए 20 रूट चिन्हित किए गए हैं। बस संचालन के साथ ही रोडवेज सभी यात्रियों का ब्यौरा भी अपने पास रखेगा। कोविड-19 को देखते हुए इस बार बसों का संचालन नए नियमों के तहत किया जाएगा। रोडवेज ने तय किया है कि बिना मास्क ने किसी भी यात्री को बस स्टेशन परिसर में एंट्री नहीं दी जाएगी। बस चालक और परिचालक भी मास्क लगाकर ही अपनी ड्यूटी करेंगे। बस में कंडक्टर के पास सैनिटाइजर की बोतल होगी और जो भी यात्री बस में प्रवेश करेगा उसके हाथ सैनिटाइज करवाए जाएंगे।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है