×

मछली के शौकिनों के लिए बुरी खबर, खाने को जाएंगे तरस

मछली के शौकिनों के लिए बुरी खबर, खाने को जाएंगे तरस

- Advertisement -

शिमला। ग्रामीण विकास एवं मत्स्य पालन मंत्री वीरेंद्र कंवर (Minister Virender Kanwar) ने आज यहां कहा कि प्रदेश के सभी जलाशयों (Reservoir) में प्रथम जून से 31 जुलाई तक मछली पकड़ने (Fishing) तथा बेचने पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। उन्होंने कहा कि मत्स्य विभाग विशेष शिविरों का आयोजन करेगा, जिसमें विभागीय कर्मचारियों को ऐसी गतिविधियों पर कड़ी निगरानी रखने के लिए तैनात किया जाएगा। इस प्रक्रिया के तहत पौंग बांध में 16 शिविर, गोबिंद सागर बांध में 16, कोल डैम में तीन और चमेरा बांध तथा रणजीत सागर बांध में एक-एक शिविर पहले ही आयोजित किए जा चुके हैं।


यह भी पढ़ें:  निजी कंपनी के सुरक्षा कर्मियों ने होमगार्ड और उसकी पत्नी को धमकाया

यह भी पढ़ें:  एचपीएसएससीः जूनियर एनवायरमेंटल इंजीनियर का फाइनल रिजल्ट आउट

उन्होंने कहा कि हर वर्ष जलाशयों में दो महीने तक मछली पकड़ने पर प्रतिबंध एक नियमित प्रक्रिया है। इस अवधि के दौरान मछली की अधिकांश प्रजातियां प्रजनन प्रक्रिया (Breeding process) से गुजरती हैं, जिससे बड़े पैमाने पर मछली बीज उत्पादन होता है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के जलाशयों से मत्स्य विभाग ‘मेजर कार्प’ और ‘सिल्वर कार्प’ के बीज एकत्र करेगा।

उन्होंने कहा कि इस प्रतिबंध के दौरान प्रदेश के जलाशयों में काम करने वाले मछुआरों को ‘क्लोज सीज़न रिलीफ फंड स्कीम’ के तहत 3 हजार रुपए प्रतिमाह प्रदान किए जाएंगे। वीरेंद्र कंवर ने कहा कि आम जनता और पर्यटकों को जागरूक करने के लिए राज्य और विभागीय वेबसाइट (Website) पर मछली पकड़ने पर प्रतिबंध की जानकारी उपलब्ध होगी। उन्होंने राज्य के सभी वर्गों से इस प्रतिबंध की सफलता के लिए अपना सहयोग देने की अपील की है।

यह भी पढ़ें:  एचीपीयू कार्यकारिणी परिषदः स्नातक स्तर पर इन्हें मिलेगा श्रेणी सुधार का स्पेशल चांस

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है